बिहार : बाहुबली अनंत सिंह की पत्नी नीलम सिंह का पहला भाषण सुनिए

0
506

मोकाम विधायक अनंत सिंह की पत्नी नीलम सिंह, मुंगेर लोकसभा सीट से कांग्रेस की उम्मीदवार।
पहली बार मुंगेर में चुनावी भाषण देते हुए। रिपोर्ट – मौर्य न्यूज18

मुंगेर लोकसभा सीट से कांग्रेस की है उम्मीदवार

जदयू के कद्दावर लीडर ललन सिंह से है मुकाबला

मुंगेर, मौर्य न्यूज18 ।

मुंगेर लोकसभा सीट से कांग्रेस की उम्मीदवार नीलम सिंह हैं। नीलम सिंह को लेकर बिहार में काफी चर्चा है। वजह, नीलम सिंह, मोकाम के निर्दलीय विधायक अनंत सिंह की पत्नी हैं। और बिहार में अनंत सिंह बाहुबली नेता के रूप में फेमस हैं। पत्नी के कांग्रेस पर टिकट मिलने के बाद से मुंगेर इलाके पर सबकी नजर है। यहां से मुकाबला जदयू के कद्दावर लीडर और बिहार सरकार मंत्री रहे राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह से है। जो कभी अनंत सिंह और ललन सिंह एक दूजे के हुआ करते थे । अब चुनावी जंग में सियसत की जंग में एक-दूसरे को मात देने में लगे हैं। इसी क्रम में अनंत सिंह की पत्नी नीलम सिंह ने जनता के बीच जाकर भाषण भी कर रही हैं। पहली चुनावी भाषण मुंगेर से ही शुरू किया है।

आपको बता दें कि विधायक अनंत सिंह चुनाव की घोषणा से पहले ही मुंगेर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी होने का दावा ठोक दिया था और कहा था कि यहां से सबकी जमानत जब्त करा दूंगा। वैसे पूरे बिहार की जनता ये जानती है कि कभी अनंत सिंह लालू के खेमे और फिर जदयू प्रमुख नीतीश कुमार के खेमे में लबे अर्से तक रहे हैं। अनंत सिंह को लेकर सीएम नीतीश कुमार की आए दिन किरकिरी भी होती रही लेकिन कभी भी विधायक अनंत सिंह को जदयू से किनारा नहीं किया गया। जेल जाने के बाद भी जदयू में बने रहे। जब मामला जटिल हुआ तो मोकामा से जदयू ने टिकट नहीं दिया तो निर्दलीय चुनाव मैदान में कूदे और भारी बहुत से जेल के भीतर रहते जीत हांसिल की।

तब से जदयू से अनंत सिंह का मोहभंग हुआ और चर्चा चली कि वो फिर से राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के खेमे का हिस्सा होंगे। लेकिन राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के जेल जाने के बाद पार्टी को संभाल रहे छोटे बेटे तेजस्वी यादव के अनंत सिंह का विरोध करने के बाद। अनंत सिंह ने कांग्रेस का रूख किया औऱ राहुल गांधी की तारीफ पर तारीफ करनी शुरू कर दी। यहां तक कि बिना कांग्रेस ज्वाइन किए पटना में राहुल गांधी की रैली में भी भीड़ जुटाउ नेता के रूप में चर्चित रहे।

तभी से ये संभावना बन गई कि अनंत सिंह अब सांसद बने की राह में कांग्रेस का दामन थाम लिया है। लेकिन बिहार महागठबंधन में राजद के तेजस्वी के विरोध के कारण वो कांग्रस ज्वाइन करने में सफल नहीं रहे लेकिन टिकट हांसिल करने में बाजी मार ली और खुद ना खड़ा होकर पत्नी को उम्मीदवार बना दिया।

इस तरह मुंगेर लोकसभा सीट काफी दिलचस्प हो चला है। पूरे बिहार की इस पर नजर है। जदयू सुप्रीमो और बिहार के सीएम नीतीश कुमार के लिए भी ये सीट चुनौती भरा है। देखना होगा कि जनता क्या तय करती है।

मुंगेर से मौर्य न्यूज की खास रिपोर्ट।