चुनावी बात : हॉट सीट पर बेगूसराय

0
445

बेगूसराय की जनता से तेरी-मेरी बातें, किसने क्या कहा ?

बेगूसराय से नयन…। मौर्य न्यूज18 ।

हम बेगूसराय बस स्टैंड के पास रोड किनारे सत्तू की दुकान पर थे। रूकते ही जय हो, जय हो से बात शुरू हुई। पूछा कि सतू कैसी है। कितने की है। कैसी दुकानदारी चल रही है। जवाब मिला सब चका चक।

हमने लोगों से सत्तू के बारे में भी बताया कि इसे बिहार में देसी हॉर्लिक्स भी कहते हैं। दुकानदार मेरी बातों को सुनता रहा। मुस्कुराकर बोला। सब जय है। यहां हर-हर मोदी है। जय-जय मोदी है। देश में मोदी चाहिए। बेगूसराय में गिरिराज चाहिए।

बात और आगे बढ़ी एक महतो जी थे। बोले मैं ड्राइविंग करके जीवन यापन करता हूंं। सत्तू पीने आया हूं। गर्मी बहुत है। सवाल इनसे में वही था बेगूसराय में चुनावी माहौल क्या है। क्या कहना है आपलोगों का। जवाब कड़क तरीके से आया, सिर्फ मोदी। मोदी ही मोदी है। और यहां कोई दूसरा चलने वाला नहीं है। हम सब भाजपा के साथ हैं।

ऐसे ही कहने वाले सारे लोग सत्तू की दुकान पर जुटे थे। मै उनसे ये भी जनना चाहा कि क्या आप भाजपा के कार्यकर्ता हैं या समर्थक। बोले- हमलोगों यहां मोदी के समर्थक हैं। कार्यकर्ता नहीं हैं। बेगूसराय में टुकड़े गैंग की जो बात है वो सब अफवाह है। वोट-वोट कुछ ज्यादा नहीं ले पाएगा।

वहीं जब हम बेगूसराय स्टेशन पहुंचे और वहां मौजूद यात्रों से बात की अजीब स्थिति दिखी। सीधी कन्हैया की बात करने लगे। औऱ कहने लगे मैं तो पूर्णिया से कन्हैया के लिए आया हूं। अब तो मतदान तक यहीं रह कर कन्हैया के चुनाव प्रचार में लग जाउंगा।

मैंने पूछा भी कि क्या आपको कन्हैया गैंग ने बुलाया है तो साफ कहने लगे किसी ने नहीं बुलाया खुद चुनाव प्रचार में आया हूं। उसी युवक की टोली बाद में भाजपा के गिरिराज खेमे में दिखा। मैंने पूछा ये क्या है तो कहने लगे कुछ नहीं मेरी मर्जी है। मैं चाहे किसी का नाम लूं और किसी के साथ रहूं। आपलोग मुझसे पूछ रहे थे मुझे लगा आपलोग कन्हैंया के बारे में सुनना चाहते थे। इसलिए कन्हैया की तारीफ करने लगे। अब अगर आप भाजपा के गिरिराज सिंह के बारे में जनना चाहेंगे तो इनके पक्ष में बोलने लगेंगे।

उस युवक के ये सारे जवाब काफी चौकाने वाले थे। यहां ये समझना होगा कि किसी भी व्यक्ति के यानि जनता से पूछताछ के आधार पर किए गए किसी भी विशलेषण पर यकीन नहीं किया जा सकता। कुल मिलाकर बेगूसराय में सच्चाई किस दरबाजे बैठेगी, इसके लिए खुद तह में जाना होगा यही बेगूसराय में मीडिया के लिए चुनौती है। जनता की राय पर नहीं जाया जा सकता।

मौर्य न्यूज18 के लिए नयन की खास रिपोर्ट।