संकट में !पटना आपका साथ चाहिए

0
594

वृक्ष लगाना ! अब सबका धर्म

जो औरों को जीवन देता है ! उसे कौन बचाए ! बचालो ना !

नयन, मौर्य न्यूज18

मैं तुलसी तेरे आंगन की !

जरा सोंचिए पौधे हमें क्या कुछ नहीं देती, आओ मिलकर पेड़ लगाएं !

क्या उसका जीना भी कोई जीना है। जो औरों का जीवन लेता है। मधुवन खुशबू देता है…औरों को जीवन देता है। लेकिन जब यही मधुवन संकट में आ जाए तो उसे कौन जीवन देगा। सब मिलकर सोचिए।

वैसे, वक्त का मिजाज तो ये कहता है कि अब सोचने का वक्त भी गया। जो कर सको तो कर लो। जो जीवन देने वाले को बचा सको तो बचा लो। आने वाली पीढ़ियों को जहरीले जीवन में छोड़ने की मूर्खता अब और नहीं। सच्चाई से अवगत कराता ये वक्त आखिर क्या कह रहा है ?

साफ है कि मधुवन को फिर से जिंदा करने को कह रहा है। वृक्ष को गले लगाने को कह रहा है। अधिक से अधिक वृक्ष पैदा करने को कह रहा है। वक्त रहते ये सब कर लेने का है।

PHE – एक साल में 1 लाख वृक्ष लगाने का संकल्प। सिर्फ पटना शहर में । मिशन के सहयोगी ! मौर्य न्यूज18

और इसी मिशन को लिए पीपुल्स फॉर हेल्थ एंड इन्वारॉन्मेंट (PHE- पीएचई) जैसे संगठन ने करने की ठानी है। औऱ 1 लाख पेड़ लगाने की मुहिम शुरू की है। पेड़ बैंक बनाने की ठानी है। शुरूआत बिहार की राजधानी पटना से रविवार 7 जुलाई 2019 से कर दी गई।

PHOTO – यूं हुई वृक्षारोपण की शुरूआत । पोस्टमास्टर जनरल अनिल कुमार, पीएचई संरक्षक ई, शंभुनाथ सिन्हा, ई, राजेश सिन्हा. अधिवक्ता अरविंद कुमार सहित अन्य गणन्यमान्य लोग वृक्ष लगा रहे । Mauryanews18

शुरूआती चंद पेड़ पटना के राजीवनगर रोड नम्बर 15 स्थित एक मंदिर परिसर में लगाई गई। बिहार के पोस्टमास्टर जनरल अनिल कुमार जो पर्यावरण फ्रैंडली रहे हैं। उन्होंने पेड़ लगाकर इस मिशन की शुरूआत की । जिसके गवाह बने समाजसेवी और जाने-माने राजनीतिज्ञ ई. शंभूनाथ सिन्हा, हाई कोर्ट के अधिवक्ता अरविंद कुमार, लॉर्ड्ज़ इंटरनेशनल स्कूल की प्रिन्सिपल बबिता चौधरी, विख्यात चिकित्सक डा. रजत चरण, समाजसेवी विनोद कुमार पंकज, रविवंनदन सहाय, कमाल परवेज़, अर्जुन सिंह, शिवेंद्र शिबू, ई.मदद गुप्ता सहित समाज के कई लोग।

PHOTO : वृक्षारोपण मिशन में आप लोगों का संकल्प हकीकत में बदल रहा। साथ मिला ! मौर्य न्यूज18

मिशन की शुरूआत विधिवत शंखनाद से हुआ। मोहल्ले के लोग इक्ट्ठा हुए और इस तरह एक उत्सव के मौहौल में मिशन की शुरूआत हुई।

ऐसे एकजुट होकर उत्सव मनाकर वृक्षारोपण किया। पेड़ लगाएं जश्न मनाएं । देखिए झलक – Maurya News18

क्या सिर्फ वृक्ष लगाना ही उदेश्य है?

मिशन की शुरूआत करने वाले प्रतिष्ठित मैग्जीन हेल्थ एंड इन्वायरॉनमेंट के संपादक ई. राजेश सिन्हा औऱ पीएचई के अध्यक्ष समाजसेवी धीरेन्द्र चौधरी हैं। इन दोनों की सोंच का नतीजा है इसे तुरंत से शुरू कर दिया गया। इनकी मानें तो कहते हैं कि वृक्ष जहां भी लगाए जाएंगे। उसकी देख रेख करने वाले तय करके ही लगाए जाएंगे। उन्हें इसके लिए सम्मानित भी किया जाएगा और वृक्ष की हर माह पीएचई से जुड़े सहयोगी इसकी मॉनिटिंग भी करेंगे जो उसी मोहल्ले के ही होंगे। वृक्षारोपण के लिए प्रथम चरण में मंदिर परिसर औऱ स्कूल-कॉलेज यानि शिक्षण संस्थानों को चुना जाएंगा। जहां वृक्ष की देखरेख की जिम्मेदारी स्कूल प्रबंधक की तो होगी ही। बच्चों की टोली को उसके संरक्षण की जिम्मेदारी दी जाएगी औऱ सालभर के बाद वृक्षों की अच्छी देखभाल करने वालों को “प्रशंसा प्रमाण पत्र” देकर सम्मानित भी किया जाएगा।

पटना में इनका भी मिला साथ। मिशन को समझने के लिए एकजुट हुए सभी। मौर्य न्चयूज18

इसी क्रम में पीपुल्स-टू-पीपुल्स जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इसमें लोगों को जोड़कर, वृक्ष दान करने की अपील की जाएगी और फिर सही स्थल का चुनाव कर उसे लगाया जाएगा।

जो लोग इस कार्यक्रम के अन्तर्गत पौधा दान या पौधारोपण करेंगे उन्हें पीपुल्स फ़ार हेल्थ एण्ड इंवायरन्मेंट की ओर से पर्यावरण सुरक्षा में उनके सकारात्मक योगदान के लिये उन्हें भी “प्रशंसा प्रमाण पत्र” दिया जायेगा।

इस तरह अधिक से अधिक “वृक्ष रक्षा मित्र” बनाए जाएंगे। जिनका नाम नम्बर और वृक्ष से लगी तस्वीर के साथ विभिन्न माध्यमों से उनके नामों की लिस्ट तस्वीर के साथ सार्वजनिक की जाएगी और वृक्ष लगाने वालों और सुरक्षा प्रबंधन की जिम्मेदारी लेने वालों को पीएचई की ओर से हर संभव सहायता की जाएगी। ताकि वृक्ष सुंदर और बेहतर जीवन जी सके।

इस मुहिम के लिए इन लोगों ने भी वक्त निकाला। आगे की प्लानिंग पर बातचीत की । मौर्य न्यूज18

लक्ष्य – पटना शहर के अंदर एक लाख वृक्ष लगाएंंगे

प्रथम वर्ष में पटना शहर के अंदर ही एक लाख वृक्ष लगाने का लक्ष्य रखा गया है। जो बड़े साइज के होंगे। इस मुहिम में स्वेच्छापूर्वक हर कोई जुड़ सकते हैं। अपना नाम, फोन नम्बर के साथ पीएचई से जुड़कर और वृक्षों को लगाकर इस संगठन का एक्टिव मैम्बर भी बन सकते हैं।

इस मुहिम की सबसे बड़ी खासियत होगी कि वृक्ष लगाने के हरेक कार्यक्रम को उत्सवपूर्वक मनाया जाएगा।

एचईटाइम्स के संपादक राजेश सिन्हा का कहना है कि अब कोई चूक नहीं की जा सकती है। बिहार में गर्मी के सारे रिकार्ड टूट गए। गर्मी से बड़ी संख्या में बच्चों की मौत हो गई। ये सब देखने के बाद भी यदि हमसब नहीं चेते तो ये बात तय है कि आने वाली पीढ़ी के लिए हम जहरीले वातावरण देकर जाएंगे, जो बहुत बड़ा अपराध होगा। ऐसा ना हो लोगों को अब घर और बाहर हर जगह अपने काम के साथ-साथ वृक्ष लगाओं, भविष्य बचाओ, बेहतर जीवन पाओ के लिए कमाना होगा।

पीएचई संस्था के अथ्यक्ष धीरेन्द्र चौधरी के घर मिटिंग करते सहयोगी। आगे की तैयारी । मौर्य न्यूज18

वहीं इस मुहिम के प्रमुख धीरेन्द्र चौधरी कहते हैं कि धन पैदा करके बैंक में रखना अच्छी बात है। लेकिन वृक्षों को पैदा करके जिंदा रखना अब दौलत से बढ़कर है। इसलिए अब वृक्ष बैंक होगा औऱ सालाना आंकलन होगा कि ग्रोथ कितना प्रतिशत हुआ है। हर लोगों को इस मुहिम से जोड़ा जाएगा। पीपुल्स फ्रैंडली ये मुहिम है। हर कोई इसका संचालक होगा। मिलजुलकर बिहार को हरा-भरा करेंगे। प्रदूषण मुक्त औऱ बेहतर पर्यावरण निर्माण की ओर काम करेंगे। यही हमारा अब धर्म होगा।

पटना से मौर्य न्यूज18 की रिपोर्ट।