सावन में लाइंस क्लब की मस्ती

0
969

मिलन समारोह में सजधज के आयीं पटना की महिलाएं

पटना, मौर्य न्यूज18

अबकी बरस सावन में …

हरेभरे रंग में हरियाली का दे गई संदेश

 सावन में इन दिनों पटना के शहरों में विभिन्न संस्थाओं के सावन मिलन समारोह मनाने का सिलसिला जारी है। महिलाएं खूब इंज्वाइ कर रहीं हैं। खुशियों के साथ डांस और मस्तीभरे खेलों के जरिए इसका इजहार भी कर रहीं हैं। पर्यावरण बेहतर रहे, हरियाली कायम रहे इसका संदेश भी दे रहीं। हरे-हरे रंगों के वस्त्रों में सज-धज कर मिलन समरोह मना रही हैं। तो आइए ऐसे ही एक समरोह जो लाइंस क्लब की ओर से मनाए गए उससे रूबरू कराते हैं।

गाने की धुन पर थिरकीं महिलाएं

लाइंस क्लब की ओर से सावन मिलन समारोह पटना में बड़ी ही धूमधाम से मनाया गया। गाने की धुन पर महिलाएं खूब डांस की और अपने हुनर का इजहार किया। हाथों में मेहंदी औऱ हरे रंगों की साड़ियों और सूट लहंगों में आईं लाइंस क्लब की महिलाओं ने कहा कि सावन में हम सभी हरियाली की कामना करते हैं।

शिव औऱ गौरी की भक्ति में डूबीं

शिव की भक्ति में खुशियां मनाते हैं। मां गौरी की अराधना करते हैं। और पर्यावरण की खूबसूरती कायम रहे इसके लिए वृक्षों की भी पूजा करते हैं। वृक्षारोपण का संदेश भी देते हैं। जागरूता से ही देश में तरक्की आ सकती है। ऐसी भावनाओं के साथ जीवन को आगे बढ़ाने का संदेश भी दीं।

सुनिता, निक्की औऱ रूचि चुनीं गईं हरियाली क्वीन

लाइंस क्लब की ओर से खेल प्रतियोगिता भी आयोजित हुए। इसमें हरियाली क्वीन का सलेक्सन भी किया गया। जिसमें सभी महिलाओं ने हिस्सा लिया औऱ अपने हुनर दिखाए। लेकिन बाजी मारीं सुनीता ने औऱ उन्हें सावन क्वीन ने नवाज़ा गया। दूसरे स्थान पर निक्की रहीं औऱ तीसरे स्थान पर रूची चौधरी रहीं। इस तरह तीन सावन क्वीन को ताज देकर सम्मानित किया गया।

उषा झा ने कहा यूं ही मनाते रहें खुशियां

इस मिलन समारोह की आयोजक लाइंस क्लब की उषा झा ने कहा कि सावन के महीने में महिलाओं के लिए यही एक ब़ड़ा अवसर होता है जहां एकजुट होकर वो खुशियां मनाती हैं और जीवन के हर रंग को जीने का संदेश भी देती हैं। हरे औऱ पीले रंगों का इस महीने में बड़ा महत्व होता है। सालोभर इसी तरह परिवार और सुहाग की बेहतरी बनी रहे इसकी भी कामना करने का ये सुनहरा मौका होता है। जिसे उत्सव की तरह मनाया जाता रहा है।

रूचि चौधरी बोलीं – नये जमाने में मस्ती के तरीके नये-नये

वहीं रूची चौधरी ने कहा कि इस महीने में मेहंदी लगाने औऱ रंग-बिरंगे वस्त्रों को पहनकर खुशियां मनाने से शिव औऱ मां गौरी भी प्रसन्न होती है। ये परंपरा वर्षों से चली आ रही है। गीत-गाने भी होते हैं। रूचि ने कहा कि हां, अब ये जरूर है कि नये जमाने के अनुसार इसे मनाया जाने लगा है।

इनकी मौजूदी भी खूब रही

इस मौके पर नृत्यांगना मौसम शर्मा, इंदू महासेठ, गीता शर्मा, विमलाजी , रागनी सिन्हा, सुनीता, निक्की, रजनी, निलोफर, पम्मी सहित दर्जनों महिलाओं ने हिस्सा लिया औऱ हरियाली जीवन की कामना कीं।

लाइंस क्लब के सावन मिलन की कुछ औऱ झलकियां




Q

चलते-चलते नृत्यांगन हॉबी सेंटर में भी सावन आयो –

महिला मंच के लिए मौर्य न्यूज18 की खास फिचर