युवाओं को जहर खाने से बचा लो सरकार ! Maurya News18

0
715

जहरीले खाद्य पदार्थों की बिक्री पर लगे रोक, लागू हो आचार संहिता – डॉ कौशलेन्द्र

नेशन फर्स्ट डेमोक्रेटिक पार्टी पटना में धरने पर बैठी

पटना, मौर्य न्यूज18 ।

देशभर में तमाम समस्याओं के बीच बिहार की राजधानी पटना में एक अनोखे और गंभीर मुद्दे पर पॉलिटिकल पार्टी धरने पर बैठी। मुद्दा रहा देशभर में जंक फूड, कुर्कुरे, चीप्प जैसे खाद्य पदार्थ को खाए पर प्रतिबंध का है। इसको लेकर धरना देने वाली नेशन फर्स्ट डेमोक्रेटिक पार्टी ने कही कि ये जहर है जहर। आखिर क्या चाहती है ये पार्टी । जानते हैं इस रिपोर्ट के जरिए।

पटना के गर्दनीबाग में 15 दिसम्बर को नेशन फर्स्ट डेमोक्रेटिक पार्टी देश के युवाओं को जहरीले खाद्य पदार्थ के सेवन से बचाने के लिए धरने पर बैठ गई। पार्टी चाहती है कि बाजार में खुलेआम बिक रहे जंक फूड और पैकेट बंद कुर्रकुरे, चिप्स जैसे खाद्य पदार्थ हमारे देश के युवाओं को निगल रही है। इस ऐसे पदार्थ की बिक्री पर प्रतिबंध लगे और सरकार आचार संहिता लागू करे।

क्यों आंखें मूंदी है सरकार !

 पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ कौशलेन्द्र नारायण ने कहा कि हमारे देश की युवा पीढ़ी बचपन से ही जंक फूड, चिप्स औऱ कुर्कुरे जैसे जहरीले खाद्य पदार्थ के सेवन की दीवानी है। और सरकार को पता है कि ऐसे पदार्थ युवाओं के लिए कितना जान लेवा है, फिर भी आंख मूंदे है। केन्द्र की सरकार हो या राज्य की सरकार सबका रवैया बिल्कुल नकारा है। डॉ कौशलेन्द्र का कहना है कि जल्द सरकार इस संबंध में आचार संहिता लागू करे औऱ इसकी बिक्री पर रोक लगाए।

कम उम्र में ही बिमारी फैल रही !

वहीं राष्ट्रीय मुख्य प्रवक्ता अजीत कुमार ने कहा इसके सेवन से युवाओं में कम उम्र में ही मोटापा और तरह तरह की बिमारी फैल रही है। स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। वहीं राष्ट्रीय महासचिव गणेश प्रसाद वर्मा ने कहा कि अनदेखी ना करो, युवाओं को बर्वाद होने से बचा लो सरकार।  

कोर्ट की भी नहीं सुनती है सरकार !

वहीं विधि प्रकोष्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष दया शंकर प्रसाद ने कहा कि आश्चर्य होता है कोर्ट कई बार सरकार को चेता चुकी है कि खुले में सड़कों के किनारे मांस-मछलियों की बिक्री अपराध है, इसपर रोक लगाई जाए। फिर भी सरकार कुछ नहीं करती।

महिला मोर्चा का सवाल – जहर का विज्ञापन आखिर क्यों ?

वहीं पार्टी की महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष प्रेमलाता सिंह और प्रदेश महासचिव चंद्राणी बनर्जी ने कहा कि जंक फूड का विज्ञापन भी बढ़चढ़ कर दिया जाता है। क्या इस ओर किसी का ध्यान नहीं जाता। आखिर इसको लेकर आवज क्यों नहीं बुलंद किये जा रहे। विज्ञापन के जरिए युवाओं को प्रलोभन दिया जा रहा और सरकार चुपचाप बिजनेस करने में लगी है। क्या देश के युवाओं को इस तरह से जहर का सेवन करा कर कम उम्र में मौत का शिकार बनाया जाता रहेगा।

पार्टी की ओर से इस धरना के माध्यम से जल्द से जल्द आचार संहिता लागू करने की मांग की गई और कहा गया कि अगर सरकार ध्यान नहीं देगी तो व्यापक आंदोलन छेड़ा जाएगा। धरना का संचालन एनएफडीपी के जहानाबाद जिलाध्यक्ष कमलेश शर्मा ने किया।  

धरने  में ये भी शामिल हुए…

राष्ट्रीय संगठन प्रभारा राजीव लोचन पांडेय के साथ बिहार प्रदेश के प्रवक्ता बिमल शर्मा, सुदीप्त मुखर्जी, अधिवक्ता अरूण कुमार, महिला मोर्चा उपाध्यक्ष अर्पिता सिन्हा, युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष कृष्णा शर्मा , महासचिव कुंदन शर्मा, संतोष कुमार, किसान मोर्चा के अवधेश शर्मा, राजेश कुमार, भोला गुप्ता, मिथिलेश पाठक, डॉ रविन्द्र कुमार, अभय कुमार सहित बड़ी संख्या में पार्टी के सदस्य धरने पर बैठे।

पटना से मौर्य न्यूज18 की रिपोर्ट