जाकि रही भावना जैसी, प्रभु मूरत देखि तिन तैसी : मंगल पांडेय ! Maurya News18

0
391

स्वास्थ्य मंत्री ने गृह मंत्री के बिहार दौरे को लेकर राजद की सोच पर ये दोहा पढ़ी

पटना, मौर्य न्यूज18 ।

बीजेपी नेता मंगल पांडेय क्यों बरसे राजद पर

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय इन दिनों राजद पर हमलावर है। नसीहत दे रहे कि जाकी रही भावना जैसी, प्रभु मूरत देखि तिन तैसी…दोहा से साफ है कि राजद के नेता जैसा बोल रहे गृहमंत्री अमित शाह को लेकर वो राजद की भावना को दर्शाता है। आखिर ऐसा क्यों कह रहे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ये भी समझना जरूरी है। दरअलल, ये मामला सीएए को लेकर है…राजद इसके विरोध में है और इसके लिए गृहमंत्री को जिम्मेदार ठहराते हुए अमित शाह के प्रति अपशब्दों का इसतेमाल कर रही है। ऐसे में भाजपा नेता कैसे चुप बैठे रहें, सो, उबल पड़े पा़डेय जी। क्या कुछ कहा है आप भी सुन लीजिए ।

मंगल पांडेय बोले जनता को भड़का रहा राजद

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बिहार दौरे को लेकर राजद के बयान को स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कुंठा से ग्रसित एवं समाज का भड़काने वाला बताया। राजद की सोच और भावना को गोस्वामी तुलसीदास के दोहा में उद्धृत करते हुए उन्होंने कहा कि ‘जाकि रही भावना जैसी, प्रभु मूरत देखि तिन तैसी’। अर्थात जिसकी जैसी दृष्टि होती है, उसे वैसी ही मूरत नजर आती है। 

श्री पांडेय ने कहा कि हिंसा और जाति की राजनीति करने वाले दलों एवं नेताओं से इससे इतर और क्या उम्मीद की जा सकती है। दोनों नेताओं के दौरे पर राजद का बचकाना बयान ओछी मानसिकता को दर्शाता है। श्री पांडेय ने कहा कि राजद नेताओं को मालूम होना चाहिए कि संवैधानिक पद पर बैठे दोनों नेताओं का बिहार दौरा समाज में सद्भाव बनाने के लिए है। साथ ही सीएए पर राजद और उनके सहयोगी दलों द्वारा लोगों को जो भ्रमित करने का प्रयास किया गया है, उसकी सच्चाई बताने दोनों नेता अ रहे हैं, जिससे राज्य में अमन-चैन कायम रहे।   

श्री पांडेय ने कहा कि राजद एवं कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टियां सीएए पर राज्य की भोली-भाली जनता को बरगलाने का काम कर रही है। स्थिति यह है कि कहीं प्रत्यक्ष तो कहीं अप्रत्यक्ष रूप से पूर देश में विरोधी मुहिम को हवा देकर अपनी रजनैतिक रोटी सेंकने का काम कर रही हैं। साथ ही श्री पांडेय ने कहा कि दोनों नेताओं के दौरे से संपूर्ण विपक्ष में खलबली मची हुई है। धर्मनिरपेक्षता का ढोंग रचने वाले ऐसे दलों को डर है कि विधानसभा चुनाव के पूर्व भाजपा के दोनों दिग्गजों का दौरा कहीं उनकी झूठ की राजनीतिक दुकानदारी को बंद ना करा दें।

पटना से मौर्य न्यूज18 की रिपोर्ट