खास बातचीत – मिलिए “कृष्णा” के ताऊ “बलराम” से ! Maurya News18

0
1087

बाल कलाकार जो “कृष्णा” सिरीयल में बना है “बलराम”

“बलराम” को पीएम मोदी हैं पसंद । और भी दिलचस्प बातें   

नयन । मौर्य न्यूज18 ।

आपको मिलवाता हूं । कृष्ण के ताउ बलराम से जिन्हें लीडर में पीएम नरेन्द्र मोदी पसंद है। तो सिनेस्टार में टाइगर सर्राफ, ऋतिक रोशन के साथ कई और स्टार भी लेकिन हीरोइन तो सिर्फ जैकलीन फर्नाडिज ही भाती है । कई और मजे की बातें लॉकडाउन में एक बाल कलाकार का बालमन आप भी जानिए…।

दरअसल, इन दिनों अब “रामायण” और “महाभारत” के बाद “कृष्णा” सिरियल भी शुरू हुआ है जिसमें भगवान कृष्ण की संपूर्ण बाल लीला है… ऐसे में जहां कृष्णा हैं, वहां बलराम का होना तो अनिवार्य ही है। इनके बिना तो कृष्णलीला ही अधूरी है। ऐसे में कृष्णा के बड़े भाई यानि ताऊ “बलराम” की जबर्दस्त भूमिका आपने टीवी सिरियल में देखी होगी। अब वो आपके सामने हैं। मौर्य न्यूज18 Mauryanews18.com से खास बाचीत की है बलराम ने । नाम है आर्यवर्त मिश्रा ।

इस नन्हे कलाकार आर्यवर्त मिश्रा से आपका परिचय करा दूं । ये नौ साल के हैं। ये यूपी और बिहार से तालुक रखते हैं। इनके पापा राकेश मिश्रा, बनारस, उत्तर प्रदेश के हैं और मां अमृता मिश्रा, बक्सर, बिहार से हैं। लेकिन रहना मुम्बई में होता है। आर्यवर्त भी मुम्बई में रहकर ही अपनी पढ़ाई करते हैं। औऱ अभी से अभिनय के फिल्ड में अपने को लगा ऱखा है।

कुदरत की देन…

किसी ने सच ही कहा हैं, कुछ चीजें कुदरती होती हैं। शायद आर्यवर्त पर भी कुदरत की मेहरबानी ही है, जो उन्हें बचपन से ही कला के फिल्ड में माहिर बनाकर दुनिया के सामने आने का मौका दिया है। तभी तो कृष्णा जैसे लोकप्रिय टीवी सिरियल में बलराम जैसी भूमिका मिली और नन्हा सा बाल कलाकार आर्यवर्त मिश्रा से बन गया कान्हा का “बलराम” । अब इसी रूप में फेमस भी हो चला है। कुछ समय हाल ये रहा कि आर्यवर्त जहां भी जाता, लोग उसे बलराम कहकर ही पुकारते । अब भी ऐसा होता है। जबकि इस सीरियल के बाद कई भूमिका निभा चुके हैं। फिर भी कहीं बलराम तो कही गौरीनंदन गणेश कहलाने लगते हैं।

ऐसे में आर्यवर्त से जानना ये दिलचस्प होगा कि आखिर ये सब हुआ कैसे ?  कैसे मौका मिला बलराम बनने का।

आर्यवर्त कहते हैं कि मेरे पापा यूपी से मुम्बई आये औऱ यहां आकर फिल्म और टेलीविजन की दुनिया में ही कुछ काम करने की शुरूआत करना चाहते थे । छोट-मोटे प्रोड्यूसर के रूप में अपना काम शुरू भी करा। इसी बीच मेरे पापा मेरे अंदर की कला को भी निखारते रहे। और इसी दौरान “कृष्णा” सिरियल के बारे में जानकारी मिली। इसके लिए मुम्बई में ही ऑडिशन रखा गया था, बाल कलाकारों की डिमांड थी। फिर मैं वहां ऑडिशन देने गया तो जुरी ने मुझे मेरी एक्टिंग के लिए खूब सराहा । और फिर “बलराम” की भूमिका के लिए मुझे सलेक्ट कर लिया गय़ा। वो पल मेरे लिए सबसे बेहतीन पल था औऱ पहला बड़ा मौका था। नया मोड़ भी।   

आर्यवर्त बताते हैं कि मेरे मां और पापा इस सलेक्शन से इतने खुश थे कि लगा मुम्बई में आना सफल हो गया। मेरे मां-पापा मुझे बहुत सपोट करते हैं। जब से मैंने कृष्णा जैसे सिरियल में बलराम की भूमिका की उसके बाद तो अब कहीं भी जाता हूं तो सब बलराम कहकर ही पुकारते हैं। मम्मी –पापा को भी बलराम के मम्मी-पापा कहकर ही लोग बुलाने लगे थे।

बलराम की भूमिका के बाद….

आर्यवर्त कहते हैं कि इस भूमिका से मेरा मनोबल बहुत बढ़ा । मेरे पापा ने मुझे हर कदम पर साथ दिया । अभिनय  को औऱ पुख्ता करने के लिए रोज घर में ही कड़ी मेहनत करता हूं। अब लॉकडाउन में थोड़ा डांस औऱ म्यूजिक की ओऱ भी ध्यान दे रहा हूं।

    इस तरह इस बाल कलाकार के आर्यवर्त से बलराम बनने के बाद टीवी सिरियल की दुनिया में चाहने वालों की भीड़ लग गई। सिरियल दर सिरियल ऑफर भी आने लग गये। कलर टीवी पर आपने श्रीमद्भागवत देखा होगा उसमें नन्हा सा गौरी नंदन गणेश कौन है वो…आर्यवर्त ही तो है। बात यहीं नहीं थमी….स्टार प्लस पर “मेरे अंगने में “ …., प्यार में सावधान…जैसे कई सिरियल में आर्यवर्त की इंट्री हुई, ये सब इतना फेमश हुआ कि कुछ मल्टीनेशनल कंपनी भी भागी दौरी आने लगी.। कंपनी के विज्ञापन में अभिनय के लिए। इसलिए टीवी देख रहे हैं तो…विज्ञापन पर गौर से देखिएगा…एवरेस्ट मसाला, महिन्द्रा विल्डर्स वाले प्रचार में दिख जाएगा आर्यवर्त। लिटिल चैम्प 2019 का ब्रांडएम्बेसडर भी नन्हा आर्यवर्त ही था। और वर्तमान की बात करें तो स्टार भारत पर आप देख सकते हैं जुग जननी मां वैष्णों देवी में चंद्रसागर की भूमिका में है।

कुल मिलाकर कह सकते हैं कि टीवी पर कोई धार्मिक सिरियल हो औऱ बाल कलाकर में आर्यवर्त ना हो तो बात पचती नहीं है मेकर्स को। और ये सब हुआ है आर्यवर्त की मेहनत और अपने कामों को बेहतर तरीके से अंजाम देने की वजह से । आर्यवर्त कहते हैं मैं अपने अभिनय को बखूबी इसलिए कर पाता हूं कि जो डायरेक्टर होते हैं वो अच्छे से भूमिका को समझाते हैं और उसपर मैं काफी मेहनत करता हूं। सबका प्यार भी मिलता है और मां-पापा की बलेसिंग तो हमेशा रहती ही रहती है।

अभिनय के दौरान पढ़ाई कैसे होती है ?

खूबसूरत बातचीत में हमने इस बाल कलाकार से ये भी जानना चाहा कि ये सब करने में पढ़ाई तो पीछे छूट जाती होगी।

आर्यवर्त कहते हैं बिल्कुल नहीं मैं अपने स्कूल या होम वर्क को शूटिंग के दौरान भी पूरा करता रहता हूं। पढ़ाई में बाधा नहीं पहुंचे इसका ख्याल सभी लोग रखते हैं। औऱ मैं भी पढ़ाई पर पूरा ध्यान देता हूं। ये सब मां-पापा और स्कूल टीचर के सपोट से संभव हो पाता है।

बलराम की पसंद कैसी-कैसी ये भी जानिए

मजे की बात तो ये है कि इस बाल कलाकार को खाने में अभी से बिल्कुल सादा खाना पसंद है…नो जंक फूड या बाहरी खाना। घर का खाना ही पसंद है।

और गोरे-गोरे मुखरे पर काला-काला चश्मा…मुकाबला-मुकाबला वो लैला…जैसे गीत भी गुनगुना पसंद है। वैसे गायक के तौर पर जहां किशोर दा के गाने सीखते हैं वहीं अभिनेता के तौर पर ऋतिक रौशन, सलमान खान, टाइगर शर्राफ, अक्षय कुमार पसंद हैं। खास कर इनके स्टंट औऱ डांस । और मजे की बात तो ये हैं कि इस क्यूट से आर्यवर्त को अभिनेत्री जैकलीन बहुत प्यारी लगती है ।

पीएम मोदी पसंद हैं

 ये जानकर मैंने इस बाल कलाकार के पसंद को थोड़ा और जानना चाहा तो कहने लगे खेल में क्रिकेटर के तौर पर सचिन तेंदुलकर औऱ विराट कोहली तो पॉलिटिक्स में पीएम मोदी मुझे बहुत पसंद है। पीएम मोदी का नाम आते ही हमने जाने की कोशिश की कि पसंद की वजह। बोले वो हम बच्चों को परीक्षा के टाइम में अच्छी बातें बताते हैं।

क्या हैं खूबसूरत सपने

यही नहीं हमने आर्यवर्त के खूबसूरत सपने को जानने की कोशिश की तो कहने लगे बस एक ही सपना है खूब पढ़ाई करूं और दुनिया का सबसे फेमस अभिनेता जाना जाउं । अपने मां-पिता को आर्दश मानने वाले इस बाल कलाकार को ढेरों शुभकामनाएं।

मौर्य न्यूज18 के लिए नयन की रिपोर्ट ।