पटना आइए हम इलाज करेंगे…जानिए कौन है वो हॉस्पिटल ! Maurya News18

0
523

मेडिवर्सल मल्टी सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल में कोविड मरीजों का इलाज प्रारंभ

हॉस्पिटल के निदेशक बोले- कोई और बीमारी भी है फिर भी हम करेंगे इलाज

पटना, 28 जुलाई, मौर्य न्यूज18 ।

कोरोना काल में पूरे बिहार में कोरोना हो या ना भी हो कोई अन्य इलाज की बात उठती है तो कोई हॉस्पिटल इसके लिए तैयार नहीं होता। लेकिन बिहार की राजधानी पटना में एक निजी नर्सिंग होम है नाम है – मेडिवर्सल मल्टी सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल । कंकड़बाग स्तिथ डॉक्टर्स कॉलोनी में ये हॉस्पिटल है । हॉस्पिटल में दिग्गज डॉक्टर की टीम भी है। इस हॉस्पिटल के प्रमुख का कहना है कि हमारे यहां कोरोना काल में भी हर तरह के पेसेंट का इलाज किया जाएगा। किसी को लौटाया नहीं जाएगा। अभी के दौर में हो ये रहा है कि कोरोना के डर से कोई हॉस्पिटल की दूसरे पेसेंट का भी इलाज नहीं कर रहे जो मानवता नहीं है। हमारा धर्म है सबकी सेवा करना । ऐसे ही भाव के साथ मेडिवर्सल पूरी तरह से तैयार है।

खबरें अब विस्तार से ….

मेडिवर्सल मल्टी सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल में कोविड मरीजों का इलाज 28 जुलाई से प्रारंभ कर दिया गया है। कोरोना पीड़ित मरीजों के सर्वोत्तम इलाज के लिए कंकड़बाग डाक्टर्स काॅलोनी स्थित मेडिवर्सल मल्टी सुपर स्पेशियलिटी में चिकित्सा सेवा मिलने लगी है। इसकी जानकारी मेडिवर्सल  के एमडी एवं सीईओ रजत एस मजूमदार ने दी।

श्री मजूमदार ने बताया कि नवनिर्मित मेडिवर्सल सुपर स्पेशियलिटी हाॅस्पिटल अन्तर्राष्ट्रीय मानकों और एन0 ए0 बी0 एच0 के क्वालिटी स्टैंडर्ड के अनुरूप इस तरह डिजाईन किया गया है ताकि इस महामारी के दौर में भी गैर कोविड पेंशेंट को संक्रमण की आशंका नगण्य रहे। 

भारत सरकार द्वारा ‘स्टार्ट अप‘ के रूप में पहचाने जाने वाले, मेडिवर्सल को राज्य में स्वास्थ्य सेवा में ‘‘ट्रस्ट, ट्रांसपेरेंसी एंड केयर ‘के पर्याय के रूप में विश्वसनीय हाॅस्पीटल बनाने की ओर अस्पताल प्रबंधन अग्रसर है। यह बिहार की औद्योगिक नीति के अनुसार एक बेनीफिशियरी  है। मेडिवर्सल के एमडी और सीईओ, श्री रजत एस मजूमदार के अनुसार ‘‘जिला प्रशासन ने हमें कोविड रोगियों का इलाज शुरू करने का निर्देश दिया है।
इन संकटपूर्ण समय में लोगों की मदद करने में सक्षम होना बहुत सम्मान की बात है। इसी समय, यह सुनिश्चित करना काफी चुनौतीपूर्ण है कि सभी व्यवस्थाएं की जाएं क्योंकि हम गुणवत्ता के साथ समझौता नहीं करना चाहते हैं। मुझे यह कहते हुए खुशी हो रही है कि इस हाॅस्पीटल में अब कोविड मरीजों को भी स्वीकार करना प्रारंभ किया गया है।’’ 

नवनीत रंजन, निदेशक व सह संस्थापक, मेडिवर्सल ने बताया कि अस्पताल पूरी तरह से वातानुकूलित है जिसमें सभी मंजिलों में हवा के लिए अलग-अलग इनलेट और आउटलेट हैं, जो कि अस्पताल में  उपचार के लिए आए मरीजों के लिए आदर्श रूप में अनुकूल है। यह कोविड रोगियों, डॉक्टरों और अस्पताल के कर्मचारियों के लिए एक वरदान होगा, क्योंकि इस तरह की व्यवस्था से संक्रमण की आशंका बहुत कम हो जाती है। गंभीर से गंभीर मरीजों के इलाज के लिए अस्पताल में अत्याधुनिक एवं महत्वपूर्ण  व्यवस्था मरीजों के देखभाल के लिए उपलब्ध है।

विशाल ऑपरेशन थियेटर को हेपा फिल्टर के साथ एसी सिस्टम से सुसज्जित किया गया है, जिसे वायु जनित संक्रमण को शून्य करने के लिए डिजाइन किया गया है। सभी बेड पर ऑक्सीजन की आपूर्ति का प्रावधान है। अस्पताल में पर्याप्त संख्या में वेंटिलेटर भी हैं। आउट पेशेंट डिपार्टमेंट पहले ही कोविड 19 के मरीजों का देखभाल प्रारंभ कर चुका है। अस्पताल सभी डॉक्टरों, नर्सों और कर्मचारियों को कोविड 19 प्रोटोकॉल के साथ पूरी तरह से सुनिश्चित करने के लिए सभी उपाय कर रहा है। हमने जिला प्रशासन को अपनी तैयारियों के बारे में पूरी तरह से अवगत करा दिया है और कोविड 19 दवाओं जैसे रेमेडिविसिर और रैपिड एंटीजेन टेस्ट आदि के संचालन की अनुमति देने में सहायता के लिए कहा है। 

मेडिवर्सल हाॅस्पीटल के मल्टी डिस्पिलनरी टीम  में पटना के फेमस डाॅक्टरों जैसे डाॅ. निशिकांत  कुमार आर्थोपेडिक्स डायरेक्टर एवं एचओडी, डाॅ.  विकास सौरभ इंटरनल मेडिसिन  डायरेक्टर एवं एचओडी, डाॅ. विकास सिंह सीनियर कंसल्टेंट कार्डियेक साइंसेज, डाॅ. राजेश रौशन एचओडी क्रिटिकल केयर, डाॅ. शाकिब सिद्विकी  एचओडी न्यूरोसर्जरी  और डाॅ. प्रणव संथालिया- एचओडी  रेडियोलाॅजी के रूप में अन्य कई प्रमुख  नाम शामिल हैं।

पटना के प्राइवेट हॉस्पिटल में जहां कोरोना का इलाज होता है…

राजधानी पटना में कोरोना के इलाज के लिए 18 निजी अस्पतालों को इजाजत दे दी गयी है. आदेश सिविल सर्जन,पटना  डॉ राजकिशोर चौधरी ने सोमवार को दिया .निम्न अस्पतालों में मंगलवार से कोरोना मरीजों का इलाज शुरू हो जायेगा.
     अस्पताल         –                 मोबाईल   नंबर
– हाइटेक इमरजेंसी –                  8709547571
– जीएस न्यूरोसाइंस-                  7903737307
– अरविंद हॉस्पिटल-                   9308517988
– मेडिका मगध हॉस्पिटल-           7261894664
– डॉ विमल हॉस्पिटल-                7422198884
– हर्ट हॉस्पिटल प्रा लि-               9608442366
– श्री मुरलीधर मेमोरियल-          9955189419
– अनुप इं.ऑफ ऑथोपेडिक्स –  8227896527
– एएस नर्सिंग होम –                 9955189419
– पारस हॉस्पिटल –                  7360008351
– क्यूरिस हॉस्पिटल –               7369944144
– महावीर वात्सल्य –               94733667421
– पाल्म ब्यू हॉस्पिटल –            9334284491
– मिडवर्सल हॉस्पिटल –          9679885104
– रूबन मेमोरियल –               8873037800
– तारा नर्सिंग –                      8873037311
– बुद्धा कैंसर सेंटर –               7677968298
– नेस्तव हॉस्पिटल –              7360050050

ऑर्थोपेडिक्स विभाग के निदेशक और एचओडी डॉ निशिकांत के शब्दों में, ‘‘इस चुनौतीपूर्ण समय के दौरान पटना के लोगों की सेवा के लिए अपनी अत्याधुनिक सुविधाओं के साथ आपकी सभी स्वास्थ्य आवश्यकताओं के लिए मेडिवर्सल तैयार है।  नेत्र रोग विशेषज्ञ डा0  निम्मी रानी ने कहा कि कोरोना जैसी वैश्विक महामारी में अपना सम्पूर्ण येागदान देने के लिए मेडिवर्सल की टीम तैयार है। कोरोना के विरूद्व संघर्ष में विज्ञान और कौशल दोनों आवश्यक है। मेडिवर्सल अपने अति दक्ष एवं कुशल टीम के साथ इस आपदा में एक अहम भूमिका निभाएगा।

पटना से मौर्य न्यूज18 की रिपोर्ट ।