बिहार में घोटाले की एक नई वेराइयटी आई है…जानना चाहेंगे। Maurya News18

0
345

बिहार में बच्चा पैदा करने की फैक्ट्री खुली..टना-टन कमा रहे स्वास्थ्यकर्मी !

मुजफ्फरपुर जिले के मुशहरी स्वास्थ्य केन्द्र के एक कर्मचारी पर हुई कार्रवाई के बाद खुलासा

नयन, पटना/मुजफ्फरपुर, मौर्य न्यूज18

बिहार में एक नए घोटाले की इंट्री हुई है। वेराइटी भी नई है औऱ स्कीम भी लाजवाब़ है। ये स्कीम महिलाओं के लिए स्पेशल है। खास ऑफर के साथ है। एक पर एक फ्री तो सब देते हैं लेकिन यहां एक पर चार, छह, आठ…अनलिमिटेड तक का ऑफर है। बस, एक महिला का नाम लाइए और छह माह में ही चार-चार बार बच्चा पैदा करवाइए। ऊपर से इनाम के तौर पर दौलत भी पाइए। ऐसा ऑफर फिर कहां मिलेगा। सो, जल्दी करिए…इस ऑफर का लाभ उठाने के लिए आप किसी भी नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जाइए और मिलिए वहां के स्वास्थ्य कर्मियों से….बांकी उनपर छोड़ दीजिए…आपको आपके डील के अनुसार छह माह में चार बच्चा पैदा करके दे दिया जाएगा, चार माह में दो बार बच्चा पैदा करा दिया जाएगा। आखिर ये सब हो कैसे रहा है इसे जानने के लिए पढ़िए पूरी रिपोर्ट…।

चलिए चलते हैं बिहार सरकार के एक स्वास्थ्य़ केन्द्र में। जिला मुजफ्फरपुर के मुशहरी स्वास्थ्य केन्द्र में आइए। मिलिए शांति देवी से । 66 साल की हैं अभी भी बच्चा पैदा कर रही हैं। वो भी छह में पांच बार बच्चा पैदा कर रही हैं। अब लीला देवी से मिलिए..35 साल की हैं। ये भी बच्चा पैदा करने में कम नहीं…14 महिने में 8 बार बच्चा पैदा करती हैं। अब मिलिए सोनी से…ये भी 35 साल की हैं। कमाल करती हैं सोनी भी…दो माह में ही दो-दो बार बच्चा पैदा कर देती हैं। जब सोनी दो माह में दो-दो बार बच्चा पैदा कर सकती हैं तो 66 की सोनिया क्यों पीछे रहती। इसने भी चार महिने में चार-चार बार बच्चे पैदा की।

बिहार के स्वास्थ्य केन्द्रों की इस तरक्की से पूरी दुनिया चौक गई है। गिनिज बुक में नाम दर्ज वाली स्थिति पैदा हो गई है। लेकिन अभी इसपर और मेहनत की जारी है.. प्रयास है… कि औऱ कितने कम से कम समय में अधिक से अधिक बार बच्चा पैदा किया जाए सके। इसपर दिन-रात काम चल रहा है।

अंदरूनी खबर ये भी है कि इस कार्य में लगे स्वास्थ्य कर्मियों ने दावा किया है कि वो जल्द से जल्द एक महिला से प्रतिदिन एक बच्चा पैदा करवाने में सफलता हांसिल कर लेंगे । यानि अब शीघ्र ही एक महिला हर रोज बच्चा पैदा करेंगी। बिहार के स्वास्थ्य कर्मियों की इस अनूठी पहल को जानने के लिए हमने जिला स्वास्थ्य समिति मुजफ्फरपुर के जिला स्वास्थ्य समिति के अधिकारी औऱ मुशहरी स्वास्थ्य केन्द्र के  स्वास्वास्थ्य कर्मी अवधेश कुमार सिंह के बीच पत्राचार को पढ़ा तो पता चला कि ये टना-टन पैसा कमाने का खेल चल रहा है और बड़े साहब तक खबर पहुंचा दी गई है ।

कैसे हो रही है आमदनी इस खेल को समझिए …

इस खेल को समझने के लिए मुजफ्फरपुर जिले के मुशहरी स्वास्थ्य केन्द्र में जो हुआ है, वो बेहतर उदाहरण है। यानि सरकार की एक योजना है कि जननी नाम से। इसके तहत जब महिला बच्चा जनती है तो उसके बैंक खाते में एक तय राशि जाती है जो लगभग 7 हजार तक है। जो एकबार ही दिए जाते हैं। और इसी राशि को पाने के लिए उन महिलाओं का भी नाम दर्ज कर लिया जाता है जो बच्चे को जन्म दी भी नहीं हैं…और ना ही उस अवस्था में ही हैं। इतना ही नहीं हद तो तब हो जा रही है कि एक महिला को ही एक माह में दो-दो बच्चे पैदा करने की रिपोर्ट बनाकर उसे पेमेंट तक कर दिया जा रहा है। यही खेल चल रहा है। जिसपर मुशहरी स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सा प्रभारी ने संज्ञान लेते हुए ऐसे कर्मचारी पर कार्रवाई की है। वैसे इस तरह का खेल बहुत पहले से इस तरह का खेल पूरे बिहार में चल रहा है, इससे इनकार भी नहीं किया जा सकता है।   

पटना से मौर्य न्यूज18 के लिए नयन की रिपोर्ट ।