अभी-अभी ! पटना में मोहन भागवत, रात में पहुंचे कानून मंत्री के घर, क्या हुई बात ! Maurya News18

0
273

बिहार भाजपा के नेताओं से भी मिलेंगे।

पटना, मौर्य न्यूज18 ।

बिहार की राजधानी पटना के बोरिंग रोड में गुरुवार की रात केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के आवास के पास सुरक्षाकर्मी काफी एक्टिव थे। पता चला कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद से मिलने उनके आवास पहुंचे थे। आवास के बाहर काफी गहमागहमी थी। भाजपा नेता व कार्यकर्ताओं के साथ ही बड़ी संख्या में आरएसएस से जुड़े लोग भी चहलकदमी कर रहे थे। सूत्रों के हवाले से पता चला कि मोहन भागवत ताजा राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर रविशंकर प्रसाद से कई जरूरी बातें की।

बैठक में लेंगे हिस्सा, भाजपा की नई टीम भी होगी सामने

आपको बता दें कि मोहन भागवत बिहार में अखिल भारतीय मंत्री परिषद की बैठक में भाग लेंगे और सबकी सुनेंगे। टास्क भी मिल सकता है। यहां से संघ के जरिए बंगाल चुनाव पर नजर है जिसको लेकर रणनीति बनती रहती है। वैसे कहा ये भी जा रहा है कि बिहार में हाल ही में मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ है और भाजपा की ओर से कई युवा चेहरों को मंत्री बनाया गया है। वे इस नई टीम से मिलेंगे औऱ सबको बारीकी से समझेंगे।

ज्ञानू का गुस्सा सातवें आसमान पर

हालिया मंत्रिमंंडल विस्तार को लेकर पार्टी में खेमेबाजी भी देखी जा रही है। बाढ़ से बीजेपी के विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने खुलकर मीडिया के सामने विरोध जताया है। उनका गुस्सा अनुभवी विधायकों को दरकिनार करने पर है। उनका कहना है पार्टी ने कम अनुभव वाले लोगों को सरकार में महती जिम्मेदारी दे दी है। इसको लेकर पार्टी में विरोध के सुर उठने लगे हैं।

राजनीति के नये स्वरूप पर मंथन

राजनीतिक पंडितों का कहना है कि भाजपा बिहार में नये प्रयोग करने जा रही है। युवाओं को आगे कर राजनीति के नये स्वरूप पर मंथन चल रहा है। कहीं ऐसा तो नहीं कि इन्हीं सब मुद्दों को लेकर आरएसएस प्रमुख का बिहार आगमन हुआ है। कहा जा रहा है कि मोहन भागवत मौजूदा राजनीति को लेकर आने वाले समय में भाजपा के कई कद्दावर नेताओं से बातचीत करेंगे।

जानकारी के लिए बता दें कि हाल ही में कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद की मां के निधन के बाद शांति भोज का आयोजन हुआ जिसमें देशभर से कद्दावर नेता पहुंचे थे। एक एंगल वो भी है, आरएसएस प्रमुख का कानून मंत्री के पटना स्थित घर पहुंचने का। लेकिन राजनीति के जानकारों का मानना है कि आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत का किसी के घर सिर्फ पारिवारिक कारणों से पहुंचेंगे ऐसा नहीं जान पड़ता है । बिहार भाजपा में जिस तरह से तेजी से बदलाव के रिश्क लिए गए हैं, ऐसे में संघ प्रमुख कोई ना कोई गंभीर बातें जरूर की होगी। वैसे भी देखें तो मोहन भागवत जैसे कद्दावर व्यक्ति से बिहार पर बातचीत करने के लिए रविशंकर प्रसाद जैसे दिग्गज लीडर ही ज्यादा सक्षम दिखते हैं। वैसे, इतना तो साफ है कि बिहार भाजपा को नये तरीके से संवारने पर काम शुरू हो चुका है। बातें क्या-क्या निकल कर आती है इसपर सबकी नज़र रहेगी।

पटना से मौर्य न्यूज18 की रिपोर्ट ।