पेपर लीक होने की अफवाह पर छात्रों का हंगामा, दौड़ा-दौड़ाकर लोगों को पीटा। Maurya News18

0
24

Maurya News18, Patna

Crime Desk

बिहार की राजधानी पटना से हंगामे की खबर आ रही है। एसके पुरी थाने के सामने छात्रों ने जमकर बवाल काटा है। लग्जरी कार समेत 22 गाड़ियों को निशाना बनाया गया। दरअसल, शनिवार की सुबह एएन कॉलेज के बाहर प्रश्न-पत्र लीक होने की किसी ने अफवाह फैला दी। मैट्रिक परीक्षा के तीसरे दिन पेपर लीक होने के विरोध में छात्र आक्रोशित हो गए और तोड़फोड़ शुरू कर दी।

शुक्रवार की सुबह के 8 बजकर 45 मिनट की ये घटना है। उस वक्त कॉलेज में अंग्रेजी की परीक्षा चल रही थी।पुलिस ने इस दौरान चार छात्रों को कस्टडी में लिया है। इनमें से 3 छात्र दनियावां हाईस्कूल के हैं, जबकि एक स्टूडेंट गुलजारबाग के एफएनएस हाईस्कूल का है। सभी से पूछताछ चल रही है। वहीं, दूसरी तरफ छात्र जदयू के कार्यकर्ता भीड़ को कंट्रोल करने और दूसरी पाली में परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स को लाइन लगवाकर एंट्री कराते दिखे।

पेपर लीक होने के अफवाह के बाद मचा बवाल

शनिवार को अंग्रेजी की परीक्षा से पहले अफवाह उड़ी कि आज हो रही अंग्रेजी की परीक्षा का प्रश्नपत्र वायरल हो गया है। लेकिन बाद में पता चला कि पिछले साल का प्रश्नपत्र वायरल हुआ है। हंगामे की वजह यह भी हो सकती है। उधर, मजिस्ट्रेट ने कहा है कि इस मामले में अब एफआईआर दर्ज होगी। वीडियो फुटेज के आधार पर हंगामा और तोड़फोड़ करने वाले स्टूडेंट्स और उपद्रवियों की पहचान की जाएगी। थानेदार सतीश कुमार सिंह के अनुसार शनिवार की सुबह में वे और उनकी टीम कैंपस के अंदर एंट्री के लिए स्टूडेंट्स की लाइन लगवा रहे थे, उसी बीच हंगामा और तोड़फोड़ हुआ।

छात्रों ने बीच सड़क पर दौड़ा-दौड़ाकर लोगों को पीटा

एएन कॉलेज के पास स्थित वैशाली होंडा के शो रूम में भी तोड़फोड़ के लिए छात्र पहुंच गए थे। कुछ कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की। यहां मौजूद कर्मचारियों ने उग्र छात्रों का एक वीडियो बना लिया। इसमें साफ दिख रहा है कि कॉलेज के सामने चल रही गाड़ियों को छात्र निशाना बना रहे हैं।

एक कार ड्राइवर गाड़ी को बचाने के लिए करीब 200 मीटर पीछे की ओर ले जाता है। लेकिन छात्र गाड़ी के पीछे दौड़ते रहते हैं और कुछ छात्र कार पर पत्थर भी फेंकते हैं। तोड़फोड़ की इस घटना में नगर निगम का एक कर्मचारी अर्जुन घायल हुआ है।