हिन्दी फिल्मों की एक अभिनेत्री थीं दिव्या भारती ! Maurya News 18

0
99

दिव्या भारती :-

  • (14 फ़रवरी 1974–5 अप्रैल 1993) हिन्दी फिल्मों की एक अभिनेत्री थीं, जिनकी अभिनय विविधता से उन्हें “अपनी पीढ़ी के सबसे चित्ताकर्षक युवा अभिनेत्री ” होने का गौरव मिला। 90 के दशक से अपनी करियर की शुरुवात करने वाली दिव्या ने कई प्रकार के व्यावसायिक रूप से सफल गति चित्रों में अभिनय किया है।[1] हिंदी फिल्मों के अलावा दक्षिण भारतीय सिनेमा में भी दर्शकों से उन्हें सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है। अधिक तत्परता से भारती ने अपनी करियर की शुरुआत तमिल एवं तेलुगु फिल्मों से ही की थी। अभिनय के अतिरिक्त भारती में एक प्रभावशाली व्यक्तित्व की छवि नज़र आती थी।
  • भारती ने अपने अभिनय की शुरुवात तेलुगु फिल्म बोब्बिली राजा से सन् 1990 में की। शुरुआती समय में भारती को कम महत्व संबंधित भूमिकाएँ दी जाती थीं। फ़िल्मी सफर में उन्हें सफलता हिंदी फिल्म विश्वात्मा से मिली। इसी फिल्म के “सात समुन्दर पार गाने” से उन्हें एक अलग पहचान मिली। सन् 1992 तक भारती स्वयं को बॉलीवुड में एक सफल नायकत्व के रूप में स्थापित कर लिया था। अन्य फिल्में सरूप शोला और शबनम, एक नाटकीय फिल्म जिसमें भारती को निडर रास के भूमिका को दर्शाया। 1992 में बनी प्रेम प्रसंगयुक्त फिल्म दीवाना में भारती के निष्पादन ने उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ नवोदित अभिनेत्री के पुरस्कार से नवाजा गया।[2] 1992-1993 के मध्य तक भारती ने मात्र 19 वर्ष की आयु में सात चौदह हिंदी और सात दक्षिण भारतीय फिल्में की।[3] अपने कम समय के करियर के दौरान मुख्यधारा के सिनेमा के अलावा भारती ने एक शक्तिशाली अभिनय की उत्पत्ति की। उनकी अंतिम पूरी की हुई फिल्में रंग, सह अभिनीत कमल सदानाह और शतरंज, सह अभिनीत जैकी श्रॉफ थी, जिन्हें भारती के 5 अप्रैल 1993 में रहस्यमय[4] मरण के बाद जारी किया गया।
यद्यपि भारती को अपने सम्पूर्ण करियर में कई अवनतियों का सामना करना पड़ा, उन्होंने खुद को ढूंढा और स्वयं को बॉलीवुड में एक सफल मुकाम बनाने में कामयाब भी रहीं। 1993 में हुई उनकी रहस्मयी मृत्यु से उनका करियर भी समाप्त हो गया।
शाजिद नाडियाडवाला से निकाह के बाद दिव्या का नाम और धर्म बदल कर शना नाडियाडवाला किया गया।

परिवार और प्रारंभिक जीवन

भारती का शैशवकाल मुंबई शहर में बीता। वह अपने पिता ओमप्रकाश भारती, जो एक बीमा अधिकारी थे, की सबसे बड़ी संतान थीं।[5] उनकी माँ का नाम मीता भारती था। मीता ओमप्रकाश भारती की दूसरी पत्नी थीं। दिव्या की शुरुवाती शिक्षा मानेकजी कॉपर हाई स्कूल में हुई।[कृपया उद्धरण जोड़ें] दिव्या शुरू से ही पढ़ाई में एक माध्यम स्तर की विद्यार्थी थीं।

प्रमुख फिल्में

  • वर्ष फ़िल्म
  • 1993 अंधा इंसाफ़
  • 1993 थोली मुद्धू तेलुगु फ़िल्म
  • 1993 शतरंज
  • 1993 क्षत्रिय
  • 1993 रंग
  • 1992 धर्म क्षेत्रम तेलुगु फ़िल्म
  • 1992 शोला और शबनम
  • 1992 दीवाना
  • 1992 दिल आशना है
  • 1992 विश्वात्मा
  • 1992 दुश्मन ज़माना
  • 1992 दिल ही तो है
  • 1992 बलवान
  • 1992 गीत
  • 1992 जान से प्यारा
  • 1992 दिल का क्या कसूर
  • 1991 राउडि अल्लुडु तेलुगु फ़िल्म
  • 1990 बोब्बिली राजा अभिनेत्री तेलुगु फ़िल्म

सबसे चित्ताकर्षक युवा अभिनेत्री