सोशल मीडिया पर नकेल, आप भी जान लीजिए क्या करना है और क्या नहीं…!Maurya News18

0
137

Maurya News18, Delhi

General Desk

ध्यान दें ! इस खबर पर, यह हम सबके लिए जरूरी है…अब आसान नहीं होगा सोशल मीडिया पर कुछ भी लिख देना या दिखा देना…भारत सरकार ने इसको लेकर कुछ गाइडलाइंस जारी किए हैं। अब सोशल मीडिया मसलन फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, वॉट्सएप आदि को सरकार के बनाए नियमों का पालन करना होगा।

सोशल मीडिया के लिए बनाए गए नियम अगले 3 महीने में लागू किए जाएंगे और OTT और डिजिटल न्यूज के लिए कानून उसी दिन प्रभाव में आ जाएंगे, जिस दिन सरकार इनके लिए नोटिफिकेशन जारी करेगी।

भारत में फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और वॉट्सएप पर करीब 113.5 करोड़ यूजर हैं, वहीं, ओटीटी प्‍लेटफॉर्म्‍स पर भी 29-30 करोड़ यूजर्स हैं।

गाइडलाइंस की 10 अहम बातें…

  1. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को शिकायतों के निपटारे के लिए मैकेनिज्म बनाना होगा।  इसके लिए कंपनियों को एक अधिकारी नियुक्‍त करना होगा और उसका नाम भी बताना होगा। अब यूजर्स की शिकायतों पर कार्रवाई हो सकेगी।
  2. संबंधित अधिकारी 24 घंटे के भीतर शिकायत दर्ज करेंगे और इसका निपटारा 15 दिन के भीतर होगा।
  3. देश में सोशल मीडिया के करोड़ों यूजर्स के लिए अधिक संख्या में शिकायत के लिए एक फोरम बनेगा।
  4. सोशल मीडिया के गलत इस्तेमाल पर यूजर्स अपनी शिकायत का निपटारा इस फोरम के जरिए करवा सकेंगे।
  5. यदि कोर्ट या सरकार किसी आपत्तिजनक, शरारती ट्वीट या मैसेज के फर्स्ट ओरिजिनेटर की जानकारी मांगती है, तो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को ये जानकारी उपलब्‍ध कराना होगी यानी अब किसी के खिलाफ आपत्तिजनक, शरारती ट्वीट करना आसान नहीं होगा।
  6. किसी की आपत्तिजनक तस्वीर पोस्ट करने पर शिकायत मिलती है तो 24 घंटे के भीतर कंटेंट हटाना होगा।
  7. यदि अगर किसी सोशल मीडिया यूजर के कंटेंट को हटाना है तो उसे ऐसा करने की सही वजह बतानी होगी।
  8. सिर्फ किसी की शिकायत पर आपका कंटेंट नहीं हटाया जा सकेगा, जब तक वह मानदंडों पर खरा नहीं उतरता हो।
  9. कंपनियों को हर महीने रिपोर्ट में बताना होगा कि कितनी शिकायत आई और उन पर क्या कार्रवाई की गई ?
  10. अगर किसी सोशल मीडिया यूजर के कंटेंट को हटाना है तो उसे ऐसा करने की वजह बतानी होगी और उनका पक्ष भी जानना होगा।