CM के जन्मदिन पर बिहारवासियों को मिला तोहफा, सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त में टीका। Maurya News18

0
56

Maurya News18

Political Desk

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की यही खासियत है कि वे हर इवेंट को उत्सव में बदल देते हैं। अब उनके जन्मदिन को ही ले लीजिए। आज यानी 01 मार्च, को उनका जन्मदिन है। उन्होंने अपने जन्मदिन को टीकाकरण उत्सव में बदल दिया है। अब वे कोरोना का टीका लेनेवाले मुख्यमंत्रियों में शुमार हो गए हैं। शुभचिंतक उनके बेहतर स्वास्थ्य व लंबी उम्र की कामना कर रहे हैं तो नीतीश कुमार ने भी बिहारवासियों को तोहफा दिया है। अब सूबे में सभी लोगों को कोरोना की वैक्सीन मुफ्त में लगाई जाएगी, निजी और सरकारी दोनों अस्पतालों में। टीका लेने पर किसी तरह का शुल्क नहीं देना होगा।

हालांकि केंद्र सरकार ने कहा है कि निजी अस्पतालों में टीकाकरण के लिए 250 रुपये का शुल्क लगेगा। लेकिन बिहार में निजी अस्पतालों में टीकाकरण के खर्च का भुगतान राज्य सरकार करेगी। वैसे बिहार सरकार पिछले नवंबर में ही कैबिनेट की बैठक में राज्य में मुफ्त टीकाकरण के फैसले पर मुहर लगा चुकी

बिहार में तीसरे चरण के वैक्सीनेशन को लेकर 1600 टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन देने की तैयारी की गई है। स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने बताया कि तीसरे चरण में सोमवार को 700 केंद्रों पर टीकाकरण कार्य शुरू होगा। इसके बाद 15 मार्च तक टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाकर 1000 की जाएगी।

60 साल से ज्‍यादा उम्र वाला हर व्‍यक्ति टीकाकरण के योग्‍य होगा। इसके अलावा 45 साल से ज्‍यादा उम्र वाले ऐसे लोग, जिन्‍हें पहले से ऐसी बीमारियां हैं, जिनसे उन्‍हें कोविड-19 का ज्‍यादा खतरा है, वे भी टीका लगवा सकेंगे। अभी केवल हेल्‍थ केयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्‍सीन दी जा रही है।

सरकार ने अभी तक बीमारियों की लिस्‍ट जारी नहीं की है। हालांकि अधिकारियों के अनुसार हाइपरटेंशन, डायबिटीज, कैंसर के अलावे दिल, गुर्दे और फेफड़े से जुड़ी कुछ बीमारियों को भी इसमें शामिल किया जा सकता है।

उधर, बजट सत्र के सातवें दिन सोमवार को विधानसभा के गेट पर RJD विधायकों ने जमकर हंगामा किया। किसानों की समस्या को लेकर उन्होंने नारेबाजी की। वहीं, कार्यवाही के दौरान CM नीतीश कुमार विधानसभा और विधान परिषद पहुंचे तो सभी सदस्यों ने मेज थपथपाकर उनका स्वागत किया। विधानसभा में आते ही विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने सदन को सूचित किया कि सदन के नेता नीतीश कुमार का आज जन्मदिन है। इसके बाद सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों ने बधाई दी। महागठबंधन के तरफ से भाई वीरेंद्र ने बधाई दी तो CM ने खड़े होकर सभी को प्रणाम किया।

उधर, विधान परिषद में अलग ही नजारा दिखा। राजद के MLC सुनील कुमार ने केक की मांग की तो रामचंद्र पूर्वे ने रिटर्न गिफ्ट की मांग की। इसके जवाब में विजय चौधरी ने मुख्यमंत्री की ओर से कहा कि CM गिफ्ट के तौर पर टीका ले रहे हैं, आप लोग भी रिटर्न गिफ्ट में टीका लगवा लीजिए।

विधानसभा के बाहर CM नीतीश कुमार ने कहा कि टीकाकरण की तैयारियों को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की गई थी। विधानमंडल में भी टीकाकरण की व्यवस्था होगी। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में लोगों को मुफ्त में टीका दिया जाएगा।

टीकाकरण को लेकर RJD विधायक भाई बीरेंद्र ने हैरान कर देने वाला बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि इस टीका पर कोई भरोसा नहीं है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के लिए अलग से टीका बनाया गया होगा, जबकि दूसरे नेताओं के लिए अलग। स्पेशलिस्ट डॉक्टर से कोरोना का टीका के बारे में जानकारी लेने के बाद ही टीका लेंगे।