“ड्रैगन” का भारत पर साइबर अटैक, टाइम्स खुलासे से हड़कंप। Maurya News18

0
149

Maurya News18

Central Desk

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट से भारत में हड़कंप मचा हुआ है। चीन का घिनौना चेहरा सामने आया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि गलवान में भारतीय सेना के साथ हुई झड़प के बाद चीनी हैकरों ने पिछले साल 12 अक्टूबर को मुंबई के पावर सप्लाई सिस्टम पर साइबर अटैक किया था। इस घटना के बाद महानगर में करीब 10-12 घंटे तक बिजली सप्लाई ठप रही थी। अमेरिका के प्रतिष्ठित अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में यह खुलासा किया है। रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के RedEcho ग्रुप ने इस घटना को अंजाम दिया था।

बिजली सप्लाई सुबह करीब 10 बजे ठप हुई। दो घंटे बाद रेलवे सर्विस तो शुरू कर ली गई थी, लेकिन पूरी तरह दिक्कत को दूर करने में 10-12 घंटे लगे थे। इसे दशक का सबसे खराब पावर फेल्योर बताया गया था। इस बीच, महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री नितिन राउत ने भी रिपोर्ट की पुष्टि की है।

साइबर अटैक के जरिए चीन, भारत को चुप रहने का संदेश देना चाहता था। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि जब भारतीय और चीनी सैनिक बॉर्डर पर आमने-सामने थे, तब मॉलवेयर को उन कंट्रोल सिस्टम में इंजेक्ट किया जा रहा था जो पूरे भारत में बिजली की सप्लाई की देखरेख करते हैं।

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, महाराष्ट्र साइबर सेल की शुरुआती जांच में इस बात का खुलासा हुआ था कि पावर आउटेज के पीछे मॉलवेयर अटैक हो सकता है। हालांकि, डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने आउटेज की बड़ी वजह ठाणे जिले के लोड डिस्पैच सेंटर में ट्रिपिंग को बताया था।

रिपोर्ट में कहा गया है कि साइबर स्पेस कंपनी रिकॉर्डेड फ्यूचर ने घटना की मॉलवेयर ट्रेसिंग की थी। कंपनी के CEO स्टुअर्ट सोलोमन के हवाले से कहा गया है कि इंडियन पावर जनरेशन और ट्रांसमिशन इन्फ्रास्ट्रक्चर में लगभग 10 से अधिक नोड्स से एंट्री करने के लिए एडवांस साइबर टेक्नॉलोजी का उपयोग किया गया था।