ओह गॉड ! ऐसा पति किसी को न दें…। Maurya News18

0
197

आयशा की अंदरूनी कहानी जानेंगे तो दिल दहल जाएगा और आंखें नम हो जाएंगी…

Maurya News18

Crime Desk

आयशा एक ऐसी लड़की का नाम जिसका जिक्र अब केवल किस्से-कहानियों में होगा क्योंकि वह सदा के लिए साबरमती नदी में समा गई है। उसने एक वीडियो बनाकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। आयशा की उम्र महज 23 साल थी। खैर, अब जो उसके वकील ने खुलासा किया है वो काफी चौंकानेवाला है।

आयशा के वकील जफर पठान ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि 23 साल की आयशा की शादी राजस्थान के जालौर के रहने वाले आरिफ से 2018 में हुई थी। आरिफ का राजस्थान की ही एक लड़की से अफेयर था। आयशा के सामने ही आरिफ गर्लफ्रेंड से वीडियो कॉल पर बात करता था। वह अपनी प्रेमिका पर ही पैसे लुटाता था और इसी वजह से वह आयशा के पिता से रुपयों की मांग करता था।

जफर बताते हैं कि साबरमती रिवरफ्रंट पर आयशा के बनाए वीडियो ने लोगों को झकझोर कर रख दिया है, लेकिन हकीकत यह है कि आयशा का संघर्ष तो उसके निकाह के दो महीने बाद ही शुरू हो गया था। खुद आरिफ ने ही आयशा को बताया था कि वह किसी और लड़की से प्यार करता है। इसके बावजूद आयशा अपने गरीब माता-पिता की इज्जत बचाए रखने के लिए लड़ती रही।

वह हर पल एक नई तकलीफ से गुजरती रही, लेकिन चुपचाप रही। एक लड़की के लिए इससे बुरा अहसास और क्या हो सकता है कि उसका पति उसके सामने ही गर्लफ्रेंड से बात करे।

आयशा, जिसने अहमदाबाद की साबरमती नदी में छलांग लगाकर दे दी अपनी जान

आयशा के वकील बताते हैं कि आयशा टैलेंटेड लड़की थी। पढ़ाई के अलावा वह घर के हर एक काम में होशियार थी। बचपन से ही उसने अपनी घर की जिम्मेदारियां जिस तरह संभाली थीं, ठीक उसी तरह की कोशिश उसने ससुराल में भी की। उसने आखिर हद तक हालात संभालने की कोशिश की, ताकि उसके परिवार को तकलीफ न पहुंचे। शादी के समय, आयशा के पिता ने अपनी बेटी को जरूरत की हर चीजें दीं, लेकिन आयशा के पति और ससुराल वाले इससे संतुष्ट नहीं थे

इस बीच, यह भी पता चला है कि आरिफ एक बार आयशा को अहमदाबाद छोड़ गया था। उस समय आयशा प्रेग्नेंट थी। परिवार का आरोप है कि आरिफ ने कहा था कि अगर आप मुझे डेढ़ लाख रुपए दे देंगे तो मैं आयशा को अपने साथ ले जाऊंगा।

प्रेग्नेंसी के दौरान आरिफ के ऐसे बर्ताव से आयशा टूट गई थी। वह डिप्रेशन में आ गई। इसी वजह से उसे काफी ब्लीडिंग होने लगी। डॉक्टर्स ने तुरंत सर्जरी की जरूरत बताई, लेकिन गर्भ में पल रहे उसके बच्चे को नहीं बचाया जा सका। परिवार का कहना है कि इसके बावजूद आरिफ और उसके परिवारवालों को कोई फर्क नहीं पड़ा। वे लगातार पैसों की मांग करते रहे।

आयशा का पति आरिफ

आयशा के पिता लियाकत अली ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने आरिफ के पिता को फोन कर पूरे मामले की जानकारी देनी चाही, लेकिन उन्होंने कभी मेरा फोन नहीं उठाया। मेरी आयशा वापस नहीं आएगी, लेकिन उसके गुनहगार को सजा मिलनी चाहिए, ताकि किसी और की बेटी के साथ ऐसा न हो। मेरी बेटी आयशा हंसमुख थी, लेकिन निकाह के बाद से ही दहेज को लेकर उसकी जिंदगी नर्क बना दी गई थी।

गुजरात पुलिस जालौर में आरिफ के घर पहुंची तो परिवार वालों ने बताया कि वह एक शादी में गया था और वहीं से कहीं चला गया। इसके बाद मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरिफ को सोमवार रात पाली से अरेस्ट कर लिया गया।