ऐसी क्या मजबूरी आ गई कि CM नीतीश को कारकेड तोड़कर MLA से मिलना पड़ा। Maurya News18

0
260

Maurya News18, Patna

Political Desk

बिहार विधानसभा में बुधवार को बजट सत्र के दौरान एक वाकया हुआ जिससे नीतीश कुमार इतने प्रभावित हुए कि कारकेड तोड़कर उस विधायक से मिलने पहुंच गए। सुरक्षाकर्मी भी कुछ समझ नहीं पाए कि आखिर सीएम साहब किधर जा रहे हैं।

दरअसल, हुआ यूं कि विधानसभा में चर्चा शिक्षा बजट पर हो रही थी और उसका रुख चरवाहा विद्यालय होते हुए तेजस्वी की तरफ मुड़ गया। जदयू विधायक विनय चौधरी ने जब नेता प्रतिपक्ष की शिक्षा पर सवाल उठाया तो तेजस्वी सहित पूरा विपक्ष तिलमिला उठा। सदन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मन ही मन मुस्कुरा रहे थे। उनके विधायक विनय चौधरी ने जिस तरह से विपक्ष की कमजोर नस पर हाथ धरा, उससे CM इतने गदगद हुए कि सदन खत्म होने के बाद बाहर खड़े अपने MLA विनय चौधरी और MLC नीरज कुमार को देखकर कारकेड को रोक दिया। गाड़ी उस तरफ बढ़ाकर शाबासी दी।

हालांकि दोनों नेताओं का कहना है कि नीतीश कुमार का यह बड़प्पन है। वे अपने विधायकों का अक्सर इस तरह हालचाल लेते रहते हैं। इस पर राजनीतिक जानकारों का कहना है कि नीतीश का ऐसा बड़प्पन पहली बार दिखा है।

बेनीपुर विधायक विनय चौधरी ने अपनी बात चरवाहा विद्यालय और पहलवान विद्यालय से शुरू की। विनय चौधरी ने कहा कि लालू यादव ने अपनी सरकार में चरवाहा विद्यालय खुलवाया था, लेकिन उस विद्यालय में तेजस्वी यादव नहीं पढ़े। उन्होंने सदन के अंदर इस बात का खुलासा किया कि तेजस्वी यादव ने सरकारी स्कूल या चरवाहा विद्यालय में न पढ़कर दिल्ली के बड़े कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ाई की।

अपनी पढ़ाई-लिखाई पर सवाल उठाने पर भड़के तेजस्वी ने कहा कि उन्होंने स्कूल से पढ़ाई की है और उनकी डिग्री फर्जी नहीं है। कहा-मेरी 7 बड़ी बहनें और बड़े भाई तेज प्रताप भी सरकारी स्कूल में पढ़े हैं। मेरा तो जन्म ही चपरासी फ्लैट में हुआ है।

सत्ता पक्ष के विधायक के द्वारा चरवाहा विद्यालय का नाम लेने से विपक्ष के विधायकों ने सदन में अपना आपा खो दिया और और उन्होंने एक साथ खड़े होकर सरकार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करनी शुरू कर दी।

खैर, यह सब के बाद जब नीतीश कुमार सदन से बाहर निकले तो देखा कि कबीर वाटिका की बाउंड्री के पास खड़े होकर MLA विनय चौधरी और MLC नीरज कुमार बातचीत कर रहे हैं। यह देखकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपना कारकेड उस ओर मोड़ दिया।

शाबाशी की बात पूछने पर विधायक विनय चौधरी ने कहा कि यह नीतीश कुमार ही हैं, जो अपने विधायकों को देखकर कारकेड का रुख मोड़ देते हैं और खुद पास पहुंच कर बातचीत करते हैं। MLC नीरज कुमार ने कहा कि यह नीतीश कुमार का बड़प्पन है, जो इस तरीके से अपने नेताओं से मिलने के लिए अपनी गाड़ी घुमा लेते हैं।