एक्टिंग की तरफ बढ़ चलीं ‘कागज’ मूवी की ‘रुक्मिणी भाभी ! Maurya News18

0
158

विज्ञापन से मिले थे 4,000 रुपये, 

पंकज त्रिपाठी के लीड रोल वाली मूवी ‘कागज’ के रिलीज होने के बाद से चर्चा में आईं एक्ट्रेस मोनल गज्जर ने कहा है कि उन्होंने इस फिल्म में अपने संघर्ष की कहानी को ही एक तरह से उतारने का काम किया है। मोनल गज्जर ने कहा कि उन्होंने एक्टिंग सीखी नहीं है बल्कि जिंदगी में जो संघर्ष झेला है, उसे ही स्क्रीन पर उतारने का काम किया है। वह कहती हैं कि एक अच्छा एक्टर होने के लिए आपको किसी भी चीज को दिल से महसूस करने की जरूरत है और फिर उसके हिसाब से कैरेक्टर प्ले करना होता है। लखनऊ आईं मोनल गज्जर ने कहा कि सफलता के लिए आपको बहुत कुछ सहना पड़ता है। 
एक्ट्रेस मोनल गज्जर ने कहा, ‘सफलता के लिए आपको और फैमिली को बहुत कुछ सहना पड़ता है। मोनल गज्जर ने कहा कि मेरी युवावस्था काम में ही गुजर गई। मेरी बहन की शादी थी और मैं उसमें शामिल नहीं हो सकी क्योंकि उस वक्त मैं बिग बॉस-4 तेलुगू का हिस्सा थी।’ मोनल ने जिंदगी के अपने संघर्षों के बारे में बताते हुए कहा कि मैं 15 साल की उम्र से ही काम कर रही हूं। 
उन्होंने कहा, ‘पिता को खोने के बाद मैं परिवार में सबसे बड़ी थी, जो कमाती थी। मेरी छोटी बहन और मां की जिम्मेदारी मुझ पर थी। मैंने सर्वे की नौकरी की और बैंक में भी काम किया। मॉडलिंग की और मिस गुजरात का खिताब जीता। इसके बाद मैंने एक ऐड शूट किया, जिसमें 4,000 रुपये मिले थे। यह मेरे लिए आधी सैलरी मिलने जैसा था। इसके बाद फिर मैं एक्टिंग की प्रेरित हुई और मेरा सपना कुछ बड़ा करने का था।’
फिल्म इंडस्ट्री में मौका मिलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मुझे शुरुआती दौर में कहा गया कि सफलता के लिए यह जरूरी है कि आपके पिता के पास कोई बड़ा पद हो या फिर आपका कोई गॉडफादर हो। मेरे केस में यह दोनों ही चीजें नहीं थीं। हालांकि मैंने यह तय कर लिया था कि किसी रोल के लिए मैं कम्प्रोमाइज नहीं करूंगी। इसलिए मैंने ब्यूटी कॉन्टेस्ट की राह चुनी और फाइनल्स तक पहुंची थी। मोनल गज्जर को पहली बार 2012 में दक्षिण भारतीय फिल्म ‘Sudigadu’ में मौका मिला था। हालांकि हिंदी सिनेमा में उन्हें लंबे समय बाद कागज मूवी के जरिए ही मौका मिल पाया।
इस फिल्म में मौका मिलने को लेकर मोनल गज्जर ने कहा कि 2015 में उनकी सतीश कौशिक से मुलाकात हुई थी। उन्होंने कहा कि इस दौरान सतीश कौशिक ने मेरे काम की सराहना की थी और कहा कि हम एक बार साथ में काम करेंगे। उन्होंने 2018 में मुझे एक मराठी मूवी ‘Man Udhaan Vara’ के लिए बुलाया था। यह एक रेप पीड़ित की कहानी थी। इसके बाद उन्होंने मुझे कागज मूवी में मौका दिया।