खुशखबरी ! बिहार में 37 हजार शिक्षकों की होगी बहाली।Maurya News18

0
57

Maurya News18

Education Desk

 एसटीईटी अभ्यर्थियों का इन्तजार आज खत्म हो गया। लंबे समय से रिजल्ट का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिए शिक्षा विभाग की ओर से खुशी की खबर जारी की गई है। दरअसल बिहार सरकार द्वारा 37 हजार शिक्षकों की नियुक्ति संबंधी परिणाम जारी कर दिया गया है। इस मौके पर बिहार सरकार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी, बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर के साथ शिक्षा विभाग के अधिकारी मौजूद थे। पटना हाईकोर्ट द्वारा परिणाम जारी करने से संबंधित मामले में अपना फैसला देने के एक दिन बाद, बिहार बोर्ड ने अपनी तैयारी कर लिया था।

गुरुवार को हाईकोर्ट ने बोर्ड की ऑनलाइन परीक्षा को वैध करार दिया और रिजल्ट घोषित करने के आदेश दिए। हालांकि कोर्ट ने राज्य सरकार और बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को आने वाली परीक्षाओं के लिए एसटीईटी का सिलेबस बनाने का आदेश भी दिया है। जो अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए थे, वे  अपना रिजल्ट www.bsebstet2019.in और biharboardonline.gov.in पर देख सकते हैं।

दरअसल एसटीईटी ये परीक्षी सात साल बाद हुई थी और इसमें उम्र सीमा की छूट भी दी गयी थी। माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 का नोटिफिकेशन सितंबर 2019 में जारी हुआ था और इसकी ऑफलाइन परीक्षा 28 जनवरी 2020 को हुई थी। परीक्षा में चार केंद्रों पर आउट ऑफ सिलेबस प्रश्न पूछे जाने पर हंगामा हुआ था। इन असंतुष्ट छात्रों ने ही हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।

वर्तमान की बात करें तो बिहार के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में फिलहाल 37 हजार 335 शिक्षकों के पद खाली पड़े हैं। जिसमें 25 हजार 270 पद माध्यमिक और 12 हजार 65 पद उच्चतर माध्यमिक शिक्षकों के लिए है। सात साल बाद एसटीईटी हुआ था और इसमें उम्र सीमा की छूट भी दी गयी थी।हालाँकि आज जब रिजल्ट जारी किया जा रहा था. उसी समय एसटीईटी अभ्यर्थी भी मौके पर पहुँच गए और जमकर हंगामा किया।

इन विषयों में खाली हैं इतनी सीटें –

माध्यमिक (नौंवी और दसवीं)

अंग्रेजी       –      5054

गणित        –     5054

विज्ञान        –     5054

सामाजिक विज्ञान  –   5054

हिन्दी         –     3000

संस्कृत        –     1054

उर्दू           –    1000

उच्च माध्यमिक (11वीं और 12वीं)

अंग्रेजी       –    2125

गणित       –    2104

भौतिकी      –   2384

रसायन शास्त्र  –  2221

प्राणी शास्त्र    –   723

वनस्पति शास्त्र  –  835

कंप्यूटर साइंस  –   1673