क्यों हुई जुबली स्टार की अपनी ही पत्नी से लड़ाई। Maurya News18

0
192

Maurya News18

Indrani Sharma

राजेन्द्र कुमार को जुबली कुमार भी कहा जाता है। उनकी फिल्में सिनेमा घरों से सिल्वर जुबली माना कर ही उतरती थी। उनकी ज्यादातर फिल्मों का यही हाल था। और लोगों ने उन्हें जुबली कुमार का नाम दे दिया।

लेकिन जुबली स्टार की उनकी अपनी ही पत्नी से तब लड़ाई हो गई जब उन्होंनें अपना बंगला बेच डाला। बंगले का बेचा जाना लड़ाई का इकलौता कारण नहीं था बल्कि उन्होंने बंगले को बाजार की कीमत से काफी कम दामों पर बेचा था।

राजेन्द्र कुमार की पत्नी की शिकायत थी कि उनके पति ने बिना किसी से सलाह मशवरा किए बंगले को बेच डाला। जिस बंगले को उनलोगों ने साथ मिलकर खरीदा और इतने प्यार से सजाया उसे उनके पति ने बेच दिया, और वो भी सिर्फ 3.50 लाख रुपये में। जो कि उस समय के बाजार की कीमत से काफी कम थी।

1969 में जब राजेन्द्र कुमार से ये बंगला राजेश खन्ना ने खरीदा था। राजेन्द्र कुमार की “बायोग्राफी जुबली कुमार- द लाइफ एंड टाइम्स ऑफ अ सुपरस्टार” में बंगले के बारे जिक्र करते हुए लिखा गया है कि बंगला खरीदते समय राजेश खन्ना ने राजेन्द्र कुमार से कहा कि ‘आप अभी अपने करियर के पीक पर हैं और मैं इंडस्ट्री में नया हूं, मेरी जिंदगी बदल जाएगी अगर मैं आपका बंगला खरीद लूं। आखिर यह बंगला सबसे बड़े सुपर स्टार का जो है।‘

राजेश खन्ना जो जैसी उम्मीद थी वैसा ही हुआ भी। जुबली स्टार का बंगला खरीदने वाली सुपर स्टार के रुप में विख्यात हुआ। ये बंगला जब तक राजेन्द्र कुमार के पास था बंगले का नाम डिंपल था। दरअसल, डिंपल राजेन्द्र कुमार की बेटी का नाम था। जब राजेश खन्ना ने इसे खरीदा तो इसका नाम आशीर्वाद कर दिया। संयोग कि बात ये हुई कि बंगला खरीदने के कुछ ही समय बाद राजेश खन्ना की शादी डिंपल कपाड़िया से हो गई।

जिस बंगले को राजेश खन्ना ने मात्र 3.50 लाख में खरीदा था, वो उनके निधन के बाद के समय में 90 करोड़ में बिका।