गुस्से में क्या बोल गए तेजस्वी, RJD में घमासान, JDU-BJP में खुशी। Maurya News18

0
268

Maurya News18, Patna

Political Desk

इंसान गुस्से में क्या कुछ नहीं बोल देता लेकिन इसके मतलब यह नहीं कि आप कुछ भी बोल दें। आप एक जिम्मेवार संवैधानिक पद होल्ड कर रहे हैं। जनता के नुमाइंदे हैं। सदन में नेता प्रतिपक्ष हैं, फिर इस तरह की हरकत क्यों ? यह तो एक तरह से पीठ दिखाकर भागना हुआ। आप सरकार से जवाब मांगिए, धरना दीजिए। अपने हक के लिए आवाज बुलंद कीजिए।

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने विधानसभा में विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक पास करने के विरोध में एक बड़ी घोषणा की है। तेजस्वी यादव ने नीतीश सरकार को 5 साल तक विधानसभा का बायकॉट करने की चेतावनी दी है। इससे न सिर्फ सरकार बल्कि राजद में भी घमासान मचा हुआ है।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव

तेजस्वी के इस फैसले को राजद के बड़े नेता भी नहीं पचा पा रहे हैं। विधानसभा का बायकाट करना यानी अपनी जवाबदेही से भागना होगा। जनता ने आपको चुनकर भेजा है सदन में ताकि आप वहां उनकी आवाज बनें न कि सदन का बायकॉट करने के लिए।

बुधवार को बिहार विधानसभा में सदन की कार्यवाही से समानांतर विधायकों के साथ बैठे तेजस्वी यादव ने विधानसभा परिसर में हुई मारपीट और लाठीचार्ज की घटना की ना केवल निंदा की बल्कि खुले तौर पर नीतीश कुमार को चुनौती दी। साथ ही कहा कि विधानसभा में जो कुछ हुआ उसके लिए सीएम नीतीश कुमार को माफी मांगनी चाहिए।

बिहार पुलिस के नए कानूून का जिक्र करते हुए तेजस्वी ने कहा कि आज विधायकों को पीटा जा रहा है, कल कोई भी निशाना बन सकता है। इस कानून के बाद पुलिस पूर्व मुख्यमंत्री को भी घर में घुसकर पीटेगी। उन्होंने कहा कि सरकार तो आती-जाती रहती है लेकिन मैं अधिकारियों को कहना चाहता हूं कि मेरा भी नाम तेजस्वी यादव है।

विधानसभा में बुधवार को अपने विधायकों के साथ काली पट्टी बांधकर पहुंचे तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार सी ग्रेड पार्टी के नेता हैं। कहा कि सदन में हमारे सवाल पर नीतीश कुमार कुछ नहीं बोलते हैं। उन्हें कोई खुद से ज्ञान नहीं है, लेकिन वे मुझे उपदेश देते हैं।