नंदीग्राम में महासंग्राम, ममता बूथ के अंदर, बाहर लग रहे जय श्री राम के नारे। Maurya News18

0
195

Maurya News18, Kolkata

Political Desk

पश्चिम बंगाल में दूसरे फेज की वोटिंग में जमकर हिंसा देखने को मिल रही है। गुरुवार को कई जगहों पर तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। स्थानीय निवासी सौरभ प्रधान का कहना है कि नंदीग्राम के बाऊल गांव में एक बूथ पर भाजपा समर्थकों को वोट देने से रोका जा रहा है।

बाहर से आए लोग एक खास पार्टी के समर्थकों को वोट देने से रोक रहे हैं। वे पत्थरबाजी भी कर रहे हैं। इसी बीच ममता बनर्जी भी वहां पहुंचती हैं और स्कूल में बने बूथ में जाकर खुद स्थिति का जायजा लेती हैं।

चुनाव आयोग के मुताबिक, दोपहर 1:30 बजे तक बंगाल में 58.15% और असम में 48.26% मतदान हो चुका है। इस बीच बंगाल की हॉट सीट नंदीग्राम के एक पोलिंग बूथ पर जमकर हंगामा हो रहा है। यहां पर TMC कार्यकर्ताओं का आरोप है कि उन्हें मतदान नहीं करने दिया जा रहा है।

ममता बनर्जी और शुभेंदु अधिकारी

इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी व्हील चेयर पर वहां पहुंचीं और आम लोगों से बात की। ममता ने कहा कि उत्तर प्रदेश और बिहार से आए लोग माहौल खराब कर रहें हैं। बाहरी गुंडे वोटिंग प्रभावित कर रहे हैं। चुनाव आयोग से कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने मामले में दखल देने के लिए राज्यपाल से भी बात की। उन्होंने कहा कि अगर चुनाव आयोग ने कार्रवाई नहीं की तो मैं कोर्ट जाऊंगी।

वहीं, नंदीग्राम के कमलपुर के पास में भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर हमला हुआ। हमले में मीडिया की गाड़ियों को नुकसान पहुंचा है। शुभेंदु ने आरोप लगाया कि यह पाकिस्तानियों का काम है। जय बंगला बांग्लादेश का नारा है। उस बूथ पर एक विशेष समुदाय के मतदाता हैं जो ऐसा कर रहे हैं।

पोलिंग बूथ के बाहर मुस्तैदी से डटे सुरक्षाकर्मी

तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने चुनाव आयोग को चिट्‌ठी लिखकर नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र में भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया। उन्होंने लिखा कि भाजपा कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ बूथों में घुस गई।

इस बीच पश्चिम मेदिनीपुर केशपुर में बूथ संख्या 173 पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर भाजपा के पोलिंग एजेंट की पिटाई का आरोप लगाया जा रहा है। पोलिंग एजेंट को अस्पताल ले जाया गया है। भाजपा नेता तन्मय घोष की कार में तोड़फोड़ करने की भी खबर है।

बंगाल चुनाव की सबसे चर्चित नंदीग्राम सीट पर भी मतदान हो रहा है। इस सीट पर लड़ाई CM ममता बनर्जी और पूर्व मंत्री शुभेंदु अधिकारी के बीच है। चुनाव प्रचार शुरू होने से लेकर अब तक ये सीट सबसे ज्यादा फोकस में रही है। ममता के लिए ये सीट उनके आत्मसम्मान का मुद्दा है तो शुभेंदु अधिकारी ने ममता को 50 हजार वोटों से हराने का दावा किया है।

शुभेंदु कह चुके हैं कि यदि ममता को नहीं हरा पाए तो राजनीति छोड़ देंगे। उन्होंने पिछले साल दिसंबर में TMC छोड़कर BJP का हाथ थामा था। हाईप्रोफाइल सीट होने के कारण नंदीग्राम में हिंसा होने की संभावना भी ज्यादा है, इसलिए यहां धारा 144 लगा दी गई है।