अभी-अभी : लालू यादव को मिली जमानत, जेल से रिहा होंगे या नहीं, जानिए। Maurya News18

0
156

Maurya News18, Ranchi

Political Desk

अभी-अभी राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को लेकर झारखंड की राजधानी रांची से एक बड़ी खबर आ रही है। लालू की जमानत याचिका पर फैसला सुनाते हुए रांची हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि जमानत के लिए लालू को एक लाख रुपये का मुचलका यानी बेल बॉन्ड भरना पड़ेगा। साथ ही बतौर जुर्माना दस लाख रुपया जमा करना होगा। इसके अलावे उन्हें अपना पासपोर्ट भी जमा कराना होगा। वे बिना कोर्ट की अनुमति के विदेश नहीं जा सकेंगे। अपना पता और मोबाइल नंबर भी नहीं बदलेंगे।

बता दें कि दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में लालू प्रसाद ने जमानत के लिए आधी सजा पूरी करने का दावा करते हुए याचिका दायर की थी। इस मामले में सीबीआई की अदालत ने लालू प्रसाद को सात-सात साल की सजा दो अलग-अलग धाराओं में सुनायी थी। पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने दावा किया था कि वह आधी सजा पूरी कर चुके हैं। वहीं सीबीआई का दावा था कि लालू प्रसाद की आधी सजा अभी पूरी नहीं हुई है।

हालांकि, लालू यादव को जेल से बाहर आने में अभी 1-2 दिनों का वक्त लग सकता है। कोविड संक्रमण के नियम के चलते उन्हें जेल से निकलने में कुछ देरी हो सकती है। बेल बॉन्ड भरने के बाद जेल से बाहर आने की प्रक्रिया शुरू होगी।

लालू प्रसाद के अधिवक्ता ने बताया कि न्यायमूर्ति अपरेश कुमार सिंह की ओर से उन्हें पांच-पांच लाख रुपये के दो मुचलका भरने का आदेश दिया गया है। बेल बॉन्ड भरने के बाद वे एक-दो दिनों में जेल से बाहर आ जाएंगे।

लालू प्रसाद 23 दिसंबर, 2017 से रांची के बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल में बंद हैं। उनकी तबीयत खराब होने की वजह से वे कई महीने तक रांची के रिम्स स्थित पेइंग वार्ड में भर्ती रहे। बाद में 23 जनवरी 2021 को सीने में दर्द और सांस लेने में परेशानी के कारण उन्हें रिम्स से एम्स नई दिल्ली रेफर किया गया।

चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू यादव को बड़ी राहत मिली है। रांची हाईकोर्ट ने शर्तों के साथ राजद सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री को जमानत दे दी है। यह मामला नौ अप्रैल को भी सुनवाई के लिए सूचीबद्ध था, लेकिन सीबीआई ने जवाब दाखिल करने के लिए अदालत से समय की मांग की थी। लालू अब जेल से बाहर निकल जाएंगे। फिलहाल राजद सुप्रीमो का दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा है।

बेटी और बेटी की पूजा अराधना काम आई

लालू परिवार में खुशी लाजमी है। पापा को जमानत मिल गई। बेटी रोहनी ने रोजा रखा था। बेटे तेजप्रताप ने दुर्गा मां की अराधना की और छोटे बेटे तेजस्वी ने देवघर जाकर बाबा भोलेनाथ की शरण में मन्नतें मांगी थी। पापा को रिहा कर दो, हे प्रभु ! कुछ ऐसा ही कामना किया था। रब ने बच्चों की सुन ली है। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को आखिरकार जमानत मिल ही गई।