हम बता रह हैं लिवर फ्रेंडली फूड के बारे में ! Maurya News18

0
142

लिवर हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है। यह कई आवश्यक कार्य करता है, जिसमें प्रोटीन, कोलेस्ट्रॉल और पित्त के उत्पादन से लेकर विटामिन, खनिज और कार्बोहाइड्रेट का उत्पादन करना भी शामिल हैं।

इसके अलावा यह शराब, दवाओं और अन्य विषाक्त पदार्थों को भी तोड़ता है। स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए अपने लिवर को ठीक रखना महत्वपूर्ण है।

हमारा शरीर हर बीमारी से पहले या कोई खराबी आने पर कई संकेतों को दर्शाता है। ऐसे ही, अगर लिवर में कुछ खराबी है, तो इसे पहचानने के कई संकेत हो सकते हैं जैसे –

  • भूख न लगना
  • वज़न घटना
  • कमजोरी
  • पेट में दर्द और सूजन
  • थकान
  • आंखों का पीलापन

ऐसे में अपने लिवर को स्वस्थ रखने के लिए इन फूड्स को अपनाएं:

ऑक्सीडेटिव डैमेज रोके चुकंदर:

चुकंदर का रस लिवर को ऑक्सीडेटिव डैमेज और सूजन से बचाने में मदद करता है और इसके प्राकृतिक डेटोक्स एंजाइमों को बढ़ाता है। चुकंदर का रस नाइट्रेट्स और एंटीऑक्सिडेंट्स का एक स्रोत है, जिसे बीटैलेंस कहा जाता है। यह हृदय स्वास्थ्य में भी वृद्धि करता है।

लिवर स्वस्थ रखे अखरोट:

अखरोट ओमेगा – 3 फैटी एसिड्स में बहुत समृद्ध होते हैं। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन के अनुसार जो लोग फैटी लिवर डिजीज से पीडित हैं, उन्हें ओमेगा – 3 युक्त खाद्य पदार्थ अपने आहार में ज़रूर शामिल करने चाहिए। इसे खाने से लिवर के फंक्शन इम्प्रूव होते हैं।

बेरी और क्रैनबेरी:

ब्लूबेरी और क्रैनबेरी दोनों में एंथोसायनिन, एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो लिवर के लिए बेहद फायदेमंद माने जाते हैं। इसके साथ ही एनसीबीआई के अनुसार 21 दिनों तक इन फलों का सेवन करने से लीवर को नुकसान से बचाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त, ब्लूबेरी इम्यून सेल और एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम को बढ़ाने में मदद करते हैं।

हरी-पत्तेदार सब्जियां फैट को कम करें :

हरी पत्तेदार सब्जियां खाने से लिवर के आस पास फैट जमा नहीं होता है। पालक, ब्रोकोली, स्प्राउट्स और केल जैसी सब्जियां हर अंग से फैट लॉस करने में मदद करती हैं। इसलिए, हरी सब्जियों को अपने आहार में ज़रूर शामिल करें।

इन्फ्लेमेशन दूर करे मछली :

ओमेगा -3 फैटी एसिड में सैल्मन, सार्डिन, ट्यूना और ट्राउट जैसी मछलियां उच्च हैं। ओमेगा -3 फैटी एसिड लिवर वसा के स्तर को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है और सूजन को कम करता है।

लिवर एंजाइम सुधारे चाय और कॉफी 

मॉडरेशन में चाय और कॉफी पीने के कई स्वास्थ्य लाभ हैं। ये दोनों ही लिवर के एंजाइम को सुधारती हैं, जिससे फैट कम होता है, खाना आसानी से पचता है, और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस में कमी आती है। ये सभी आगे चलकर लिवर में समस्याओं का कारण बनते हैं। इसलिए, ग्रीन टी और ब्लैक कॉफी का सेवन किया जा सकता है।