HIGH LEVEL मीटिंग के बाद CM नीतीश ने कोरोना को लेकर क्या कहा, जानिए। Maurya News18

0
27

Maurya News18, Patna

Corona Desk

बिहार में बढ़ते कोरोना मरीजों को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को एक हाईलेवल मीटिंग की। इसमें उन्होंने निर्देश दिया कि महामारी से निपटने के लिए आयुष, यूनानी डॉक्टरों के साथ ही डेंटल और रिटायर्ड डॉक्टरों का भी सहयोग लिया जाए। साथ में चिकित्सा कार्य से जुड़े अन्य कर्मियों की भी ट्रेनिंग कराकर उनकी सेवा ली जाए।

बता दें कि बिहार में कुल 1.19 लाख डॉक्टर रजिस्टर्ड हैं। इनमें 40,200 एलोपैथिक, 33,922 आयुष, 34,257 होम्योपैथी, 5,203 यूनानी और 6,130 दांत के डॉक्टर हैं। थोड़ी-सी ट्रेनिंग के बाद इन डॉक्टरों की भी सेवा ली जा सकती है।

मीटिंग में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद व रेणु देवी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, डीजीपी एस के सिंघल, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत के अलावे अन्य अधिकारी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मौजूद थे। इस दौरान मुख्यमंत्री को बिहार में कोरोना के मामलों, जांच और वैक्सीनेशन की जानकारी दी गई।

CM नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने अधिकारियों से कहा कि अभी कोरोना के मामलों में और इजाफा हो सकता है। इसलिए इससे बचाव के हरसंभव कदम उठाए जाएं। उन्होंने ऑक्सीजन की आपूर्ति हर हाल में सभी अस्पतालों में सुनिश्चित करने को कहा।

मीटिंग के बाद सीएम नीतीश उतरे सड़क पर

सोमवार को दो बार हुई हाईलेवल मीटिंग के बाद शाम 5 बजे के करीब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राजधानी पटना का जायजा लेने निकले। उनका काफिला मुख्यमंत्री सचिवालय से निकलकर कंकड़बाग मुख्य सड़क होते हुए पटना सिटी तक जा पहुंचा।