Google search engine
शनिवार, जून 19, 2021
Google search engine
होमPOLITICAL NEWSरविशंकर बोले- अमेठी तो संभालिए

रविशंकर बोले- अमेठी तो संभालिए

-

केरल में राहुल के चुनाव लड़ने पर भाजपा का कटाक्ष

पटना, मौर्य न्यूज18

पटना साहिब से बीजेपी- एनडीए के उम्मीदवार रविशंकर प्रसाद ने राहुल गाँधी के दक्षिण से चुनाव लड़ने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राहुल गाँधी जी केरल के एक बिल्कुल अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्र में संरक्षण प्राप्त करने गए है, के के एंथोनी और कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता सुरजेवाला के टिप्पणी को देखकर भी हंसी आती है, जिसमे उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी लड़ सकते थे केरल, कर्नाटका, तमिलनाडु से जिसमे उन्होंने केरल की राय दिया, इसके साथ उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मांग थी कि वो दक्षिण से लड़े, लेकिन सबसे कमाल का वक्तव्य उनके गुणी मिडिया प्रभारी सुरजेवाला ने कहा कि दक्षिण भारत के संस्कृति को बचाने  के  लिए राहुल गाँधी केरल से चुनाव लड़ेंगे, क्या बात है!

सवाल खड़ा कर रही बीजेपी !

इसके साथ उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी जी आज पार्टी की ओर से आप से कुछ सवाल पूछने की इच्छा हो रही है, नरसिम्हा राव दक्षिण भारत से बनने वाले भारत के पहले प्रधानमन्त्री थे, वो जब मरे तो उनका क्या तिरस्कार किया गया था, क्या उनके शव को दिल्ली पार्टी के दफ्तर में जाने दिया गया था?, एन टी रामाराव का क्या हस्र किया गया?, लोकप्रिय आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री एम जी रामचंद्रन जी के साथ क्या किया गया?, इसके साथ उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी जी आपकी दादी जी ने तमिलनाडु के लोकप्रिय नेता खाम्राज नाडार के साथ क्या किया था?, राजगोपालचारी जी के साथ क्या किया गया था?, इसलिए मैं हमेशा कहता हूँ कांग्रेस पार्टी जरा होमवर्क करना सीखे, राहुल गाँधी जी तो होमवर्क नहीं करते है लेकिन उनकी टीम थोड़ा होम वर्क करेगी तो कांग्रेस पार्टी के चरणों के निशान मिलेंगे कि देश में क्या क्या किये है, ये एकता और संस्कृति की बात करते है।

ALSO READ  दिल्ली - आखिर जमानत मिल ही गई ।
ALSO READ  दिल्ली - आखिर जमानत मिल ही गई ।

दक्षिण भारत में कांग्रेस ने किया क्या

दक्षिण भारत को जोड़ने की बात करते है, जबकि कांग्रेस पार्टी ने किसी भी जमीन के नेता को दक्षिण भारत में बढ़ने नहीं दिया, इसके साथ उन्होंने कहा कि तमिलनाडु में कांग्रेस पार्टी आज हाशिये पर है क्यूंकि कांग्रेस पार्टी ने किसी भी जमीन के नेता को आगे बढ़ने नहीं दिया, आज कह रहे है कि हम संस्कृति बचाने चले  है, राहुल गाँधी जी संस्कृति कितना समझते है इसपर तो काफी बहस हो जाएगी, लेकिन जब वायनाड गए हीं है तो कृपया सबरीमाला मामले पर आपका क्या स्टैंड है, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग सवाल पूछ रही है वायनाड पर राहुल गाँधी से, ये क्या है?, मेरे अंगने में तुम्हारा क्या काम है, केरला के मुख्यमंत्री जी ने भी बहुत आलोचना किया है, नरेन्द्र मोदी जी को रोकने में महागठबंधन के दावा करने वाले इसके आने से पहले हीं फिसल गए है, हमारे प्रधानमन्त्री जी ने एक बात कही थी कि टेबुल के टुकड़े को साटने के लिए फेविकोल ठीक होता है, लेकिन जब राजनितिक महागठबंधन बनाने के लिए अवसरवाद का फेविकोल लगाया जाता है तो वो जल्दी हीं टूट जाता है, इसके साथ उन्होंने कहा कि जब राहुल गाँधी जी जा हीं रहे है तो उनकी चिंता केरल की जनता करेगी, लेकिन राहुल गाँधी जी आप ये बताये कि आप तो भारत के सबसे बड़ी पुराने पार्टी जो अब सिमट गई है उसके नेता है तो आपका अपनी बहन के अलावा और कोई नहीं मिला जो आपको प्रधानमन्त्री के रूप में नाम ले, अमेठी में आपकी ज़डे हिल गई हैं, इसलिए वायनाड जा रहे हैं ।

ALSO READ  दिल्ली - आखिर जमानत मिल ही गई ।
ALSO READ  दिल्ली - आखिर जमानत मिल ही गई ।

पटना से मौर्य न्यूज18 की रिपोर्ट

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में...

कोरोना की धीमी लहर के बाद राज्य निर्वाचन आयोग के काम करने की रफ्तार तेज अनुमान दो-तीन माह में चुनाव कराने पर चल रहा विचार बाढ़...

दिल्ली – आखिर जमानत मिल ही गई ।