Google search engine
गुरूवार, जून 24, 2021
होमBIHAR NEWSBIHAR : उद्यमी योजना के तहत 1 जून से बड़े अवसर :...

BIHAR : उद्यमी योजना के तहत 1 जून से बड़े अवसर : शाहनवाज हुसैन ! MAURYA NEWS18

-

सभी वर्ग के युवा -युवतियों के लिए अवसर

NAYAN, PATNA, MAURYA NEWS18
17 MAY 2021

मैं शाहनवाज़ हुसैन आपको बहुत अहम् जानकारी दे रहा हूँ आप इस रिपोर्ट को अच्छे से पढ़िए और लाभ लीजिये !

शहनवाज़ हुसैन उद्योग मंत्री , बिहार सरकार की कलम से …!

जानकारी

पिछले ही महीने कैबिनेट से स्वीकृत हुई मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना 1 जून 2021 से लागू करने की तमाम तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। बिहार के युवा और युवतियों में उद्यमिता को बढ़ावा देने के मकसद से प्रस्तावित – इन योजनाओं के तहत अभ्यर्थियों के आवेदन और उसके निष्पादन के लिए ऑनलाइन पोर्टल बनाने का कार्य पूरा कर लिया गया है । इसके अलावा बिहार में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए पहले से चल रही दो योजनाएँ – मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजनाओं के तहत भी नए सिरे से आवेदन मंगाए जाएंगे। यानी पूरे बिहार के युवा-युवतियों के लिए सरकारी सहायता प्राप्त कर स्वरोजगार शुरु करने या उद्योग लगाने के जबरदस्त अवसर होंगे।

10 लाख तक का लोन बिना किसी ब्याज या लगभग न के बराबर ब्याज (सिर्फ 1 प्रतिशत) पर सरकार की तरफ से मुहैया कराया जाएगा

इन सभी चार योजनाओं को मिलाकर बिहार के सभी वर्ग के युवा- युवतियों के लिए अधिकतम 10 लाख तक का लोन बिना किसी ब्याज या लगभग न के बराबर ब्याज (सिर्फ 1 प्रतिशत) पर सरकार की तरफ से मुहैया कराया जाएगा जो कि बिहार के नए उद्यमियों के लिए बहुत बड़ा अवसर होगा और आत्मनिर्भर बिहार के लक्ष्य की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा।आत्मनिर्भर बिहार के सात निश्चय-2 के अंतर्गत स्वीकृत दोनो नयी योजनाओं मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के लिए 200 -200 करोड़ रुपए की स्वीकृति भी दे दी गई है।

उद्योग विभाग (@IndustriesBihar ) के द्वारा संचालित सभी चार उद्यमी योजनाओं के लिए वित्तीय वर्ष 2021 -22 के लिए लक्ष्य दो हजार इकाई का रखा गया है ।इसके अलावा राशि व्यय के आधार पर लक्ष्य को बढ़ाया भी जा सकता है ।योजनाओं को विस्तार से समझना चाहें तो मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना के तहत लाभुकों को उद्योग लगाने के लिए परियोजना लागत का 50% – अधिकतम रुपए 5 लाख तक का अनुदान और 50% अधिकतम रुपए 5 लाख तक का ब्याज मुक्त ऋण दिया जाएगा। जबकि मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत परियोजना लागत का 50% – अधिकतम रुपए 5 लाख तक का अनुदान और 50% अधिकतम रुपए 5 लाख तक सिर्फ 1 प्रतिशत ब्याज सहित ऋण दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सात निश्चय संकल्प के तहत बिहार में रोजगार सृजन और आत्म निर्भर बिहार के निर्माण हेतु पहले से ही मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजनाएं सफलता पूर्वक चल रही हैं। इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए मुख्यमंत्री के निर्देशन में उद्योग विभाग द्वारा तैयार मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना को कैबिनेट की स्वीकृति दी गई और इसे अब जल्द से जल्द लागू करने की तैयारी है।

1 जून 2021 से मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना – इन दोनों योजनाओं को लागू करने की तैयारी ।

1 जून 2021 से मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना और मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना – इन दोनों योजनाओं को लागू करने की तैयारी है। लाभुकों के चयन की प्रक्रिया पूरी तरह पारदर्शी होगी और ये सुनिश्चित किया जाएगा कि चयन प्रक्रिया समयबद्ध तरीके से पूरा करने के साथ लाभुकों को सहायता राशि की उपलब्धता अविलंब हो।आपको बता दें कि मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना के लिए पात्रता सभी वर्गों की महिलाओं के लिए है और बस इतना जरुरी है कि आवेदन कर्ता बिहार की निवासी हो और 12वीं या इंटरमीडिएट पास हो। वहीं मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के लिए पात्रता है कि आवेदन कर्ता पुरुष सामान्य और पिछड़ा वर्ग से हो और बिहार की निवासी होने के साथ 12वीं या इंटरमीडिएट पास हो।

जबकि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अति पिछड़ा वर्ग के लिए उद्यमी योजना पहले से ही लागू है। बिहार में युवा-युवतियों में उद्यमिता को बढ़ावा देना, सरकार की तरफ से हर संभव मदद देकर युवाओं को स्वरोजगार के लिए तैयार करना, स्वालंबी बनाना सरकार का लक्ष्य है। उद्योग विभाग दिन रात इस प्रयास में जुटा है कि बिहार के हर वर्ग के युवा-युवतियों को बढ़ते बिहार, आत्मनिर्भर बिहार के निर्माण में भागीदार बनें।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सात निश्चय-2 (2020-25) के संकल्पों के तहत राज्य में अप्रत्याशित रोजगार सृजन के लक्ष्य को हासिल करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। मेरी अपील है कि आवेदन प्रक्रिया शुरु होते ही पात्रता के हिसाब से बिहार के युवा – युवती उद्यमी योजनाओं के लिए आवेदन करें और इसका लाभ उठाने के साथ आत्मनिर्भर बिहार के निर्माण में भागीदार बनें।

चलते-चलते इस अहम् जानकारी को भी समझिए … आप सब के काम की है

बिहार के बहुत से युवा उद्यम शुरू करने के इच्छुक हैं या इसके लिए प्रयास कर रहे हैं । कोरोना काल में दूसरे राज्यों से लौटे युवा भी नए अवसर की तलाश में हैं । ऐसे में बिहार सरकार की 4 उद्यमी योजना (दो पूर्व की और दो बिल्कुल नई) बेहद कारगर और समयानुकूल है और ये सामान्य और पिछड़ा वर्ग से लेकर अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा व महिलाओं – सभी वर्ग के युवाओं के लिए बहुत बढ़िया अवसर प्रदान करने वाली है।

ALSO READ  बिहार पंचायती राज : जिनका क्षेत्र नगर निकाय में चला गया वो अब पंचायत प्रतिनिधि नहीं माने जाएंगे । प्रमुख पद भी उसी दिन से समाप्त : मंत्री सम्राट चौधरी
ALSO READ  राजद से TEJ बोले - CHIRAG तय करें कि संविधान के साथ रहेंगे या गोलवलकर के साथ

ये योजनाएं हैं —

  • अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति योजना-200 करोड़ (पहले से लागू योजना) –
  • अति पिछड़ा वर्ग योजना-200 करोड़ (पहले से लागू योजना)-
  • महिला उद्यमी योजना-200 करोड़ ( नई योजना – 1 जून से लागू होगी)-
  • युवा उद्यमी योजना – 200 करोड़ ( नई योजना – 1 जून से लागू होगी),
  • सामान्य वर्ग-पिछड़ी जाति – सभी वर्ग के लोग इसका लाभ उठा पायेंगे।उद्योग विभाग के सभी 4 योजनाओं को मिलाकर अब इनका बजट 800 करोड़ का हो गया है।
  • सरकार ने इस योजना के तहत आर्थिक सहायता जो पहले तीन किस्तों में मिलती थी, उसको अब दो किस्तों में कर दिया है ।
  • इससे उद्यमी बनने के इच्छुक बिहार वासियों को और फ़ायदा मिलेगा ।
  • इन चारों उद्यमी योजना का लाभ उठाने के इच्छुक व्यक्ति इस पोर्टल (www.udyami.bihar.gov.in) पर जाकर 1 जून से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • जिन्हें भी ऐप्लिकेशन और इसकी बारीकियों को समझने में दिक़्क़त पेश आए,वो ज़िला उद्योग केंद्र पर जाकर हमारे अधिकारियों से सहायता प्राप्त कर सकते हैं

शहनवाज़ हुसैन, उद्योग मंत्री , बिहार सरकार /

https://www.facebook.com/SyedShahnawazHussain/posts/4175244042538543

https://www.facebook.com/SyedShahnawazHussain/posts/4175477112515236

17 MAY 2021, PATNA, MAURYA NEWS18

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here
ALSO READ  बिहार पंचायती राज : जिनका क्षेत्र नगर निकाय में चला गया वो अब पंचायत प्रतिनिधि नहीं माने जाएंगे । प्रमुख पद भी उसी दिन से समाप्त : मंत्री सम्राट चौधरी

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

राजद से TEJ बोले – CHIRAG तय करें कि संविधान के...

तेजस्वी ने चिराग पासवान को साथ आने का दिया न्योता राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद जल्द होंगे पटना में, शुरू होगी राजनीति पॉलिटिकल ब्यूरो, पटना, मौर्य...