Ranchi University : राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लिए पूरी तरह तैयार है आरयू : कुलपति

  • रांची यूनिवर्सिटी ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के लिए पूरी तैयारी की है, इसे हम अपने शिक्षकों, कर्मियों के सहयोग से उत्‍साह से लागू करने जा रहे हैं : कुलपति
  • एनईपी में डिग्री के साथ ही छात्रों को स्किल्‍ड बनाना मुख्‍य उद्देश्‍य

रांची । रांची यूनिवर्सिटी में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कुलपति प्रोफेसर डा अजीत कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में मोरहाबादी परिसर स्थित आर्यभट्ट सभागार में हुई इस कार्यशाला में आरयू के सभी विभागों, कालेजों के प्राध्यापक, हेड, डीन शामिल हुए। कुलपति ने सबों का इस कार्यशाला में शामिल होने के लिए आभार जताया। कुलपति ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति की जानकारी देते कहा कि वर्तमान डिजिटल युग में हमें डिजिटलाइजेशन पर ज्‍यादा ध्‍यान देना है। आज के युग में इसका ज्‍यादा से ज्‍यादा उपयोग छात्रों और विश्‍वविद्यालय के आवश्‍यक है। वहीं पेपरलेस कार्यसंस्‍कृति को अमल में लाने की भी आवश्‍यकता है। इससे काम तीव्रता से होते हैं और सिस्‍टम में कोई रूकावट नहीं आती है। उन्‍होंने कहा कि झारखंड खेलों में बहुत आगे है। अब हम विश्‍वविद्यालय स्‍तर पर भी खेलों एवं फिजिकल एक्टिविटी को तरासेंगे। इसके लिए जल्‍द ही कालेज स्‍तर पर खेल कोच एवं फिजिकल ट्रेनर की नियुक्ति की जाएगी। इसके लिए सभी कालेजों के प्रिंसिपल से उनकी जानकारी मांगी जा रही है।

आरयू ने ने पौने चार लाख डिग्रियां डिजिलाकर में अपलोड किए :
प्रतिकुलपति डा कामिनी कुमार ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सराहना करते हुए कहा कि यह हम सभी शिक्षकों का दायित्‍व बनता है कि इसे अच्‍छे से ठोस रूप में लागू करें। डिजिटलाइलेजन की उपयोगिता बताते हुए उन्‍होंने कहा कि रांची यूनिवर्सिटी ने पौने चार लाख डिग्रियां डिजिलाकर में अपलोड कर दिए हैं। डा नीरज ने करिकुलम फ्रेम वर्क की जानकारी देते कार्यशाला में आए सभी शिक्षकों को कई महत्‍वपूर्ण जानकारियां दीं। वहीं डा राज कुमार सिंह ने चार वर्षीय स्‍नातक कोर्स के सभी प्रावधानों के बारे में स्‍लाइड शो से जानकारियां दीं। कार्यशाला दो सत्रों तक चला और राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर विस्तार से चर्चा के साथ ही इससे संबंधित सवाल जवाब का एक सत्र चला। ताकि सभी इसके विभिन्न पक्षों को अच्छे से जान सकें। डा आरके शर्मा ने कार्यशाला में सवाल जवाब के सत्र में सभी शिक्षकों एवं प्रधानाध्‍यापकों के सवालों के जवाब दिए। उन्‍होंने कहा कि सिलेबस एवं राष्ट्रीय शिक्षा नीति से संबंधित जानकारियां रांची विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दी गईं हैं।

ये रहे शामिल :
इस एक दिवसीय कार्यशाला में डीएसडब्‍ल्‍यू डा आरके शर्मा, कुलसचिव डा मुकुंद चंद्र मेहता, परीक्षा नियंत्रक डा आशीष कुमार झा, प्राक्टर डा बीआर झा, वोकेशनल की डिप्‍टी डायरेक्‍टर डा स्‍मृति सिंह एवं विश्‍वविद्यालय के अन्‍य वरीय पदाधिकारी भी शामिल हुए। कार्यशाला का समापन एवं धन्‍यवाद ज्ञापन सीवीएस की डिप्‍टी डायरेक्‍टर डा स्‍मृति सिंह ने किया।

Leave a Reply

spot_imgspot_img

Hot Topics

Related Articles