Google search engine
शनिवार, जून 19, 2021
Google search engine
होमटॉप न्यूज़बदलें चाय बनाने का तरीका, जानें गर्मी में अदरक या इलायची क्या...

बदलें चाय बनाने का तरीका, जानें गर्मी में अदरक या इलायची क्या है बेहतर ! Maurya Newa18

-

चाय के दीवानों के लिए गर्मी क्या और सर्दी क्या? मौसम कोई भी हो लेकिन चाय की दीवानगी कभी कम नहीं होती। सर्दियों में चाय के कम ज्यादा हो जाते हैं, तो गर्मी में कुछ कप घट जाते हैं लेकिन चाय की चुस्कियां कभी बंद नहीं होती। बदलते मौसम में आप चाहें चाय बंद न करें लेकिन चाय बनाने के तरीके को जरूर बदल देना चाहिए। 

अदरक या इलायची वाली चाय

सर्दियों में अदरक वाली चाय पसंद की जाती है लेकिन गर्मियों में अगर आप अदरक वाली चाय का ज्यादा सेवन करते हैं, तो यह आपके लिए हानिकारक हो सकती है। अदरक की तासीर बहुत ज्यादा गर्म होती है जिसकी वजह से कई लोगों को स्किन एलर्जी के साथ पेट से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती हैं। ऐसे में गर्मियों के मौसम में इलायची वाली चाय बेस्ट ऑप्शन है। इलायची न सिर्फ आपका मूड रिफ्रेश करती है बल्कि इसके कई फायदे भी हैं- 

इलायची वाली चाय के फायदे- 

-इलायची के सेवन से सांस लेने की समस्या जैसे अस्थमा, तेज जुकाम और खांसी से राहत मिलती है। साथ ही यह फेफड़ों की परेशानी दूर करने में भी बहुत ही सहायता करती है।
-मानव शरीर में कई सारी बीमारियां उच्च रक्तचाप के कारण जन्म लेती है, यदि आप नियमित रूप से दो से तीन इलायची का सेवन करें,  तो रक्तचाप नियंत्रित करने में सहायता मिलेगी।
-इलायची वाली चाय न केवल स्वाद में अच्छी लगती है बल्कि इससे पाचन तंत्र भी दुरुस्तं रहता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने का काम करता है।
-यदि आप तनाव की समस्या से घिरे रहते हैं, तो इलायची का सेवन आपके लिए लाभकारी हो सकता है। ऐसा देखा गया है कि इलायची चबाने से हार्मोन में तुरंत बदलाव देखने को मिलता है और आप तनाव से मुक्त हो जाते हैं।
ALSO READ  एक अभिनेता की असली ताकत क्या है, हर कलाकार को जानना चाहिए : अमोल पालेकर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में...

कोरोना की धीमी लहर के बाद राज्य निर्वाचन आयोग के काम करने की रफ्तार तेज अनुमान दो-तीन माह में चुनाव कराने पर चल रहा विचार बाढ़...

दिल्ली – आखिर जमानत मिल ही गई ।