Google search engine
शनिवार, जून 19, 2021
Google search engine
होमPOLITICAL NEWSहद कर दी आपने ! CM को बना दिया शराब माफिया। Maurya...

हद कर दी आपने ! CM को बना दिया शराब माफिया। Maurya News18

-

Maurya News18, Patna

Political Desk

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि देश के सबसे ज्यादा कमजोर और बेबस मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं। ऐसे थके और बेबस मुख्यमंत्री कोई और नहीं।

इतना ही नहीं उन्होंने नीतीश कुमार को शराब माफिया तक कह डाला। तेजस्वी ने कहा कि इतने प्रमाण के बावजूद मंत्री रामसूरत राय पर किसी तरह की कार्रवाई नहीं हो रही, जबकि गृह विभाग मुख्यमंत्री के पास है।

शराब के मामले में जिन अधिकारियों पर कार्रवाई हो रही है, वे वंचित समाज से आते हैं। उन्होंने कहा कि रामसूरत राय स्पष्टीकरण दें कि संस्थान की वह जमीन किसके नाम पर है और जिस संस्थान में शराब मिली है, उसके संस्थापक वे हैं कि नहीं ? बिहार में मेवालाल चौधरी,  अशोक चौधरी,  रामसूरत राय से जुड़े ऐसे कई मामले हैं, जिनके बारे में नीतीश कुमार की जानकारी नहीं रही।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि शराब मामले में बड़े लोगों पर कार्रवाई नहीं हो रही है। सिर्फ गरीबों पर कार्रवाई हो रही है। शराब के मामले में सबसे ज्यादा दलित और अति पिछड़े जेल में हैं। बिहार सरकार में 64 फीसदी मंत्री दागी हैं। इनमें से कई पर बलात्कार, मर्डर और अपहरण के भी मामले दर्ज हैं। रामसूरत राय का मामला सदन में भी रखा, इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हो रही।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने शराब मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में यहां तक कह डाला कि शराब के असली माफिया नीतीश कुमार हैं। बिहार सरकार के मंत्री रामसूरत राय जिस स्कूल के संस्थापक हैं, वहां भारी मात्रा में शराब मिली है, लेकिन CM अनजान बने बैठे हैं। सरकार मंत्री रामसूरत राय को बर्खास्त करे।

तेजस्वी यादव ने कहा कि एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि बिहार में शराबबंदी के बाद 30 लाख लीटर शराब आ चुकी है, लेकिन मैं कहता हूं कि 50 लाख लीटर से अधिक शराब बिहार में आ चुकी है और पुलिस बता रही है कि 9 लाख लीटर शराब बरामद की गई है।

JDU के कई विधायक शराब के नशे में ठुमके लगाते दिख चुके हैं, लेकिन अब तक किसी पर कार्रवाई नहीं हुई। नीतीश कुमार सरकार चला रहे हैं और उन्हें इन सब बातों की जानकारी ही नहीं है। बिहार में 20 हजार करोड़ का शराब का काला कारोबार है। इससे ज्यादा मुनाफे का कोई कारोबार बिहार में नहीं है।

ALSO READ  दिल्ली - आखिर जमानत मिल ही गई ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में...

कोरोना की धीमी लहर के बाद राज्य निर्वाचन आयोग के काम करने की रफ्तार तेज अनुमान दो-तीन माह में चुनाव कराने पर चल रहा विचार बाढ़...

दिल्ली – आखिर जमानत मिल ही गई ।