Google search engine
शनिवार, जून 19, 2021
Google search engine
होमSTATE'श्री बाबू' भारत रत्न के हकदार, सवर्ण प्रकोष्ठ ने जताया आभार। Maurya...

‘श्री बाबू’ भारत रत्न के हकदार, सवर्ण प्रकोष्ठ ने जताया आभार। Maurya News18

-

Maurya News18, Patna

Political Desk

जदयू ने सवर्ण प्रकोष्ठ बनाकर अन्य दलों को भी आईना दिखाया है। राजनीति में सभी को लेकर चलना होगा, इस मंशा से जदयू की इस पहल को सराहनीय भी कहा जा सकता है। बहरहाल सवर्ण प्रकोष्ठ के साथियों ने शुक्रवार को जमकर मिठाई खाई भी और बांटी भी। रंग-गुलाल लगाकर एक-दूसरे को बधाई भी दी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

जदयू सवर्ण प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डॉ. नीतीश कुमार टनटन ने मौर्य न्यूज18 के संवाददाता को बताया कि आज बहुत खुशी का दिन है।

दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह को भारत रत्न प्रदान करने के लिए केंद्र के समक्ष अनुशंसा भेजी है, इसी बात को लेकर प्रकोष्ठ के साथी खुशी मना रहे हैं। इस ऐतिहासिक निर्णय के लिए बिहार का सवर्ण समाज एवं सवर्ण प्रकोष्ठ जदयू ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का आभार प्रकट किया है।

जदयू सवर्ण प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डॉ. नीतीश टनटन के साथ अन्य साथी खुशी मनाते हुए।

बिहार प्रदेश सवर्ण प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डॉ. नीतीश कुमार टनटन के नेतृत्व में प्रकोष्ठ के दर्जनों साथी श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल पहुंचे और सर्वप्रथम श्रीकृष्ण बाबू की प्रतिमा पर बारी-बारी से माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए। प्रकोष्ठ के सभी सदस्यों ने खुशी मनाते हुए रंग-गुलाल एवं मिठाई बांटकर मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।

इस मौके पर प्रकोष्ठ के अध्यक्ष टनटन ने कहा कि इस चिर-प्रतिक्षित मांग को पूरा करने हेतु भेजे जा रहे प्रस्ताव पर आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि केंद्र सरकार बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री एवं सृजनकर्ता श्रीबाबू को भारत रत्न जरूर प्रदान करेगी क्योंकि श्री बाबू इस उपाधि के सभी मानकों को पूरा करते हैं।

सवर्ण प्रकोष्ठ बिहार सरकार के इस ऐतिहासिक पहल को पूरे बिहार में घूम-घूम कर बताने का काम करेगा और जबतक श्री बाबू को भारत रत्न देने की घोषणा केंद्र सरकार द्वारा न कर दी जाएगी तबतक जन गोलबंदी करते रहेगा।

नीतीश टनटन ने बताया कि कार्यक्रम में कुमार साहब, भाई राजेश , मयंक, शुभम, विक्की राजीव कुमार, मनटन कुमार, विपुल राय, मनीष, ललन सिंह, नरेंद्र , राहुल सिद्धार्थ, जितेंद्र साई के अलावे प्रकोष्ठ के अन्य साथी भी मौजूद थे।

ALSO READ  पर्यावरण की रक्षा हेतु पौधे अवश्य लगाएं : लक्षमण गंगवार

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में...

कोरोना की धीमी लहर के बाद राज्य निर्वाचन आयोग के काम करने की रफ्तार तेज अनुमान दो-तीन माह में चुनाव कराने पर चल रहा विचार बाढ़...

दिल्ली – आखिर जमानत मिल ही गई ।