Google search engine
शनिवार, जून 19, 2021
Google search engine
होमजीवन मंत्रपिम्पल्स को रोकने में कारगर हैं ये 6 सुपर फूड्स ! Maurya...

पिम्पल्स को रोकने में कारगर हैं ये 6 सुपर फूड्स ! Maurya News18

-

स्किन प्रॉब्लम्स में पिम्पल्स की ऐसी समस्या है जिसके ठीक होने के बाद भी दुबारा पिम्पल होने का खतरा बना रह है। ऑयली स्किन वाले लोग इस समस्या को बेहतर तरीके से जानते हैं। ऑयली स्किन के लिए तो जैसे पिम्पल्स की प्रॉब्लम्स परमानेंट हो। वहीं, पिम्पल्स की समस्या के साथ एक और समस्या जुड़ी होती है कि पिम्पल्स ठीक होने के बाद भी चेहरे पर निशान छोड़ जाते हैं और कई-कई एक्ने तो इतने ज्यादा जिद्दी होते हैं कि महीनों इनका निशान साफ नहीं होता। आज हम आपको ऐस ही फूड्स बता रहे हैं, जो पिम्पल्स को रोकने में कारगर हैं- 

पानी

पानी आपके आंतरिक शरीर को पोषण और ऑक्सीजन पहुंचाता है, अंगों को बहुत पोषण, महत्वपूर्ण और मुंहासे से लड़ने के लिए फिट रखता है।

जैतून तेल

जैतून तेल लोशन रोम छिद्रों को बंद किए बिना त्वचा में अवशोषित हो जाता है, जिससे त्वचा सांस ले पाती है। यह मुंहासों को रोकने में मददगार हो सकता है।

नींबू का रस

नींबू का रस एसिड कचरे को खत्म करने और साइट्रिक एसिड के साथ लीवर को साफ करने और रक्त के विषाक्त पदार्थों यानी टॉक्सिान्स को खत्म करने के लिए एंजाइमों के निर्माण में मदद करता है। यह छिद्रों को फ्लश आउट भी करता है, जो त्वचा को ताज़ा और चमकदार बनाता है।

रसबैरी

रसबैरी स्वस्थ आहार हैं, क्योंकि वे विटामिन, एंटीऑक्सिडेंट और फाइबर से भरे हुए हैं। ये फाइटोकेमिकल्स से भरपूर होते हैं जो त्वचा की सुरक्षा करते हैं।

अखरोट

नियमित रूप से अखरोट खाने से त्वचा की चिकनाई और कोमलता में सुधार होता है। अखरोट के तेल में लिनोलिक एसिड होता है। इसे वॉटरटाइट और अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखता है।

सेब

सेब में बहुत सारे पेक्टिन होते हैं और यह मुंहासे का दुश्मन है। तो, याद रखें कि त्वचा को भी खाएं क्योंकि पेक्टिन ज्यादातर वहीं केंद्रित होता है।

ALSO READ  एक अभिनेता की असली ताकत क्या है, हर कलाकार को जानना चाहिए : अमोल पालेकर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में...

कोरोना की धीमी लहर के बाद राज्य निर्वाचन आयोग के काम करने की रफ्तार तेज अनुमान दो-तीन माह में चुनाव कराने पर चल रहा विचार बाढ़...

दिल्ली – आखिर जमानत मिल ही गई ।