Google search engine
शनिवार, जून 19, 2021
Google search engine
होमBIHAR NEWSबिहार में चुनाव टालने को कहा है भाजपा नेता डॉ सीपी ठाकुर...

बिहार में चुनाव टालने को कहा है भाजपा नेता डॉ सीपी ठाकुर ने ! Maurya News18

-

पहलीबार बिहार भाजपा के सिनियर लीडर ने कहा बिहार में चुनाव टाल देना चाहिए ।

पार्टी फोरम में भी रख दी है बात

नयन, पटना, मौर्य न्यूज18

भाजपा के सिनियर लीडर और पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ सीपी ठाकुर ने साफ कहा है बिहार में जिस तरह से कोरोना का कहर है बिहार में चुनाव टाल देना चाहिए । उन्होंने ये भी साफ किया कि इस संबंध में पार्टी में मैंने बात रखी है औऱ कहा है कि चुनाव अभी नहीं होना चाहिए। अब पार्टी निर्णय लेगी क्या करना है।  

आपको बता दें कि डॉ ठाकुर ने बुधवार को देर रात बेब रेडियो पर चर्चा में ये बातें कहीं हैं । बेब रेडियो के संपादक अनुरंजन झा ने जब डॉ ठाकुर से ये सवाल किया कि क्या बिहार में चुनाव टाल देना चाहिए आपकी क्या राय है। इसी जवाब में डॉ ठाकुर ने अपनी राय रखी। उनसे ये भी पूछा गया कि क्या आप अपनी बात पार्टी फोरम में रखी है तो डॉ ठाकुर ने कहा कि है बिल्कुल मैंने शीर्ष नेतृत्व के सामने अपनी राय रख दी है औऱ चुनाव हर हाल में टालने की सलाह दी है मैंने।

बेब रेडियो पर संपादक अनुरंजन झा के साथ कांग्रेस लीडर तारिक अनवर औऱ भाजपा लीडर डॉ सीपी ठाकुर ।

वर्तमान चुनावी रंग को देखें तो कोरोना काल में भाजपा और जदयू दोनों सत्ताधारी पार्टी चुनावी तैयारी में पूरी तरह से भिड़ी हुई है  । वर्चुअल पर वर्चुअल रैलियां कर रहीं हैं । रोज विधानसभावार चुनावी सभाएं हो रहीं हैं। मीटिंग हो रहे हैं । जबकि कोरोना का कहर विधान पार्षद और विधानसभा कर्मियों को भी निगल चुका है। भाजपा के अधिकांश कार्यकर्ता कोरोना पीड़ित हैं।

ALSO READ  यूपी के कलाकारों को मिल रही आर्थिक मदद, जरूरतमंद उठा सकते हैं लाभ : राजू श्रीवास्तव

उधर, महागठबंधन खेमे से रोज राजद के युवा नेता तेजस्वी यादव विपक्ष के नेता के नाते भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और एनडीए को घेर रहे हैं। चुनाव टालने की मांग उठा रहे हैं। जनता की जान जोखिम में ऱख कर चुनाव कराने के पक्ष में महागठबंधन खेमे की कोई भी पार्टी तैयार नहीं हैं। कांग्रेस भी विरोध कर चुकी है। यहां तक की एनडीए के ही घटक दल लोजपा के चिराग पासवान ने भी साफ कहा है कि बिहार में कोरोना की हालत देखकर चुनाव कराने वाली स्थिति नहीं है । इसे तत्काल टाला जाना चाहिए । इस टिप्पनी के बाद राजनीति काफी गरमा भी गई थी ।

ALSO READ  बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में लग गया है।
बिहार में महागठबंधन के लीडर तेजस्वी यादव, उपेन्द्र कुशवाहा औऱ मुकेश साहनी ।

भाजपा, राजद के तेजस्वी यादव के चुनाव टालने वाले बयान पर चुनाव से डरने का हवाला देकर काफी तंज भी कसती रही है। चुनाव से पीछे हटने और हार का डर सताने तक की बात भाजपा और जदयू करती रही है।

ऐसी स्थिति में भाजपा के सीनियर लीडर डॉ सीपी ठाकुर का स्पष्ठतौर पर ये कहना कि चुनाव हर हाल में टाला जाना चाहिए। बिहार विधान सभा चुनाव के मद्दे नजर बहुत बड़ी खबर

है।

नेता स्वार्थी ना बनें, कोरोना में जनात को बख्स दें – डॉ ठाकुर

डॉ ठाकुर से जब ये पूछा गया कि क्या राजनेता की चुनाव वाली बीमारी और कोरोना वाली बीमारी दोनों ही बिहार की जनाता को परेशीनी में डाले हुए है। तो डॉ ठाकुर ने कहा बिल्कुल सही बात है । एक तो कोरोना का कहर है जिससे जनता परेशान है उपर से राजनेता लोग चुनाव के चक्कर में जनता को पीसने में लगे हैं। अभी नेताओं को अपने चुनावी स्वार्थ से बचना चाहिए ।
22 जुलाई की शाम 8 बजे की डिबेट में शामिल डॉ सीपी ठाकुर साथ में कांग्रेस लीडर तारिक अनवर और वेब रेडियो के संपादक अनुरंजन झा । मौर्य न्यूज18 ।
————————————————————————————————————————————–

बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था से भी खुश नहीं हैं डॉ ठाकुर

डॉ ठाकुर की स्पष्ट और साफगोई वाली बात यहीं नहीं थमी उनसे जब बिहार के स्वास्थ्य व्यवस्था पर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि बिल्कुल अच्छी नहीं है, लेकिन बेहतर हो सकती है। इसकी व्यवस्था की जा रही है। लेकिन वर्तमान हालात संतोषजनक नहीं है। एक तरह से उन्होंने बिहार सरकार की खसस्ताहाल सरकारी स्ववास्थ्य व्यवस्था पर भी सवाल ख़ड़ा किया है।

चलते-चलते —

पुत्र डॉ विवेक ठाकुर के बिहार से राज्य सभा सदस्य बनने पर दी बधाई

BJP LEADER DR C P THAKUR AND DR VIVEK THAKUR

डॉ सीपी ठाकुर भाजपा लीडर के तौर पर भूमिहार खेमे के बड़े कद्दावर लीडर के तौर पर भी जाने जाते रहे हैं। अब पार्टी ने उनके पुत्र को जातीय समीकरण को देखते हुए राज्यसभा भेजा है। 22 जुलाई 2020 को कोरोना काल में पुत्र ़डॉ विवेक ठाकुर ने उपराष्ट्रपति के समक्ष शपथ ली औऱ इस तरह राज्यसभा के सदस्य बन गए। इसके लिए डॉ ठाकुर ने पुत्र को बधाई भी दी औऱ उनकी शुभकामनाएं भी स्वीकार की । इसके लिए उन्होंने पार्टी का भी आभार व्यक्त किया है। इसी संदर्भ में जब डॉ ठाकुर से पूछा गया कि क्या जातिवाद के कारण राजनीति ज्यादा औऱ विकास कम होते हैं। बिहार जातिवाद के कारण इस बदहाल हालत से गुजर रहा है।

इस पर डॉ सीपी ठाकुर ने कहा कि जातिवाद से इनकार नहीं किया जा सकता है। इसे हर हाल में दूर करना ही होगा। विकास में जातिवाद तो बाधा है ही लेकिन अब धीरे-धीरे कम हो रहा है। गिरते राजनीति स्तर के लिए भी उन्होंने जातिवाद को कारण माना है। और जनता से अपील की कि आने वाले समय में जातिवाद पर वोट देने से बचें।

पटना से मौर्य न्यूज18 के लिए नयन की रिपोर्ट ।

ALSO READ  एक अभिनेता की असली ताकत क्या है, हर कलाकार को जानना चाहिए : अमोल पालेकर

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में...

कोरोना की धीमी लहर के बाद राज्य निर्वाचन आयोग के काम करने की रफ्तार तेज अनुमान दो-तीन माह में चुनाव कराने पर चल रहा विचार बाढ़...

दिल्ली – आखिर जमानत मिल ही गई ।