Google search engine
रविवार, जून 20, 2021
Google search engine
होमटॉप न्यूज़भारत का एप्प स्ट्राइक..Maurya News18

भारत का एप्प स्ट्राइक..Maurya News18

-

टिक-टॉक की बत्ती हुई गुल, 59 एप्पस बैन

बिजनेस रिपोर्टर, नई दिल्ली, मौर्य न्यूज18

भारत सरकार ने सोमवार को बड़ा ऎलान किया जिसमें उन्होंने चीन के 59 एप्प को बैन करने का फैसला लिया,इसमें करोड़ों हिन्दुस्तानियों का लोकप्रिय एप्प tiktok भी शामिल है, टीक टॉक एक ऐसा एप्प है जिसकी लोकप्रियता सबसे अधिक है ,इसके युजर्स सबसे अधिक है पूरी दुनिया में ,भारत सरकार के इस फैसले से चीन के साथ साथ हमारा भी नुकसान होगा, ये जानते हुए भी सरकार ने ये फैसला लिया कि अब चीनी एप्प को बाय बाय कहने का टाइम आ गया है ।दरअसल भारत सरकार का ये कहना है की इन एप्प के द्वारा हमारे भारतवासियों की जानकारी चीन और दूसरे देशों को साझा किया का रहा है,और इसी वजह से सरकार ने इन सारे चाइनीज एप्प को बैन कर दिया है ।

टीक टॉक प्रमुख निखिल गांधी का क्या कहना है ये भी सुनिए।

सरकार द्वारा tiktok बैन किए जाने के बाद टीक टॉक के भारत प्रमुख निखिल आडवाणी ने कहा कि उन्होंने चीन सरकार को इसके बारे में अभी कोई भी जानकारी नहीं दी है,सरकार के द्वारा उनसे स्पष्टीकरण मांगा गया है, दरअसल भारत सरकार का ये आरोप है कि इन सारे चाइनीज एप्प के द्वारा हमारे देश की जनता की सारी जानकारी वे चीन और दूसरे देश को दे रहे है । इस पर निखिल आडवाणी का कहना है कि tiktok सभी डेटा प्राइवेसी सिक्योरटी के नियम भारतीय कानून के तहत फॉलो करती है, कंपनी ने किसी भी युजर्स का डेटा चीनी सरकार या किसी अन्य विदेशी सरकार के साथ साझा नहीं किया है।अब इसमें कितनी सच्चाई है ये तो वो ही जाने, क्यूंकि बीते कुछ दिनों से चीन के द्वारा ये एक्टिविटी की जा रही थी जिसकी सूचना भारत सरकार को दी गई ।जिसके बाद ही सरकार हरकत में आ गई,और इसका खामियाजा चीन को भुगतना पड़ा।

ALSO READ  देशद्रोह मामला : आज पुलिस के सामने पेश होंगी मॉडल आयशा सुल्ताना

यूसी ब्राउजर की आधी कमाई सिर्फ भारत से

भारत में करीब 50 करोड़ युजर्स चीन के यूसी ब्राउज़र का इस्तेमाल करते है,और ये भी जान ले कि भारत में स्मार्ट फोन युजर्स को संख्या 50 करोड़ से भी अधिक है ,इसका मतलब ये है कि बहुत कम ऐसे मोबाइल है जिसमें यूसी ब्राउज़र नहीं है ।

MI के बैन होने से xiaomi को होगा नुकसान

शाओमी चीन की मोबाइल निर्माता कंपनी है,ये भारत में नंबर 1 पे है, यहां तक कि इसका एक चौथाई से भी अधिक हिस्सा भारतीय बाजारों पर अपना कब्जा जमाए हुए है।अगर भारत की बात करे तो चीन के लिए यह एक बड़ा मार्केट है,यहां के लोग हेल्लो,लाइक,विगो,टीक टोक,यूसी ब्राउज़र जैसे एप्प खूब इस्तेमाल करते है,जिससे चीन की कमाई बहुत होती है।लेकिन यहां ये बात भी दुखदाई है कि इन एप के जरिए बहुत सारे भारतीयों कि नौकरी भी जुड़ी हुई है,अब ये एप्प बैन होने वाले है जिसकी वजह से इन सबकी नौकरियां खतरे में आ चुकी है ,कुछ लोग वीडियो बना कर पैसे कमाते थे ,कुछ इस प्लेटफॉर्म के जरिए स्टार बन गए और कुछ बनने वाले थे । तो सही मायने देखा जाए तो नुकसान हमारा भी है।

ALSO READ  बिहार में पंचायत चुनाव : रहिए तैयार, आयोग EVM जुटाने में लग गया है।
नई दिल्ली से बिजनेस रिपोर्ट ।

\

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Must Read

देशद्रोह मामला : आज पुलिस के सामने पेश होंगी मॉडल आयशा...

Social Activist हैं आयशा, कोच्चि से लक्षद्वीप के लिए हुई रवाना, बोली- मैं कुछ भी गलत नहीं बोली। कोच्चि/नई दिल्ली, मौर्य न्यूज18 कोच्चि, लक्षद्वीप की सामाजिक...